बैतूल में रहा अतुलनीय अनुभव- तरूण पिथौड़े

बैतूल। उम्दा प्रशासनिक क्षमताओं के दम पर प्रतिष्ठित एवं गरिमामय माने जाने वाले मप्र की राजधानी भोपाल के कलेक्टर पद से नवाजे गये बैतूल के निर्वतमान कलेक्टर तरूण कुमार पिथौड़े ने बैतूल कलेक्टरी के छ: माह के अल्प कार्यकाल में ही अपनी संवेदनशील कार्यप्रणाली से जिले की जनता के दिलों में जगह बना ली थी। श्री पिथौड़े का कहना है कि बैतूल कलेक्टर के पद पर पदस्थापना का अनुभव अतुलनीय रहा है। जिले शब्दों में नहीं बांधा जा सकता है। बैतूल कलेक्टर के पद से रिलीव होने के बाद भोपाल कलेक्टर तरूण कुमार पिथौड़े ने उक्त बातें दैनिक राष्ट्रीय जनादेश के साथ चर्चा के दौरान कहीं।
काम करने के लिए बैतूल बेहतर जिला
बैतूल के निर्वतमान कलेक्टर श्री पिथौड़े का मानना है कि अपने सेवाकाल में उन्हें काम करने के लिए बैतूल जिले से बेहतर कोई जगह महसूस नहीं हुई। उनका मानना है कि काम करने के लिए बैतूल बेहतर जगह है। श्री पिथौड़े के मुताबिक यहां की जनता जनप्रतिनिधी एवं मीडिया सभी अच्छे है। जिसके चलते सभी के समन्वित सहयोग से उन्हें काम करने में अच्छा रिस्पांस मिला है। श्री पिथौड़े ने उम्मीद जताई कि बैतूल जिले के पर्यावरण संरक्षण के लिए उनके द्वारा किये गये नवाचारों को जिले की जनता अमली जामा पहनायेगी। भोपाल कलेक्टर के पद पर पदस्थापना को लेकर श्री पिथौड़े का कहना था कि उन्हें चुनौती पूर्ण जिम्मेदारी मिली है। जिससे वे बखूबी से निर्वहन करने का प्रयास करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *