अपनी कॉलोनी के बूथ पर भी हारे दिग्विजय, अफसरों ने भी प्रज्ञा के लिए की एक तरफा वोटिंग

भोपाल। साध्वी प्रज्ञा और दिग्विजय सिंह के बीच मुकाबले में दिग्विजय सिंह अपने प्रभाव वाले इलाकों में भी बहुत ज्यादा वोट हासिल नहीं कर पाए हैं। राघौगढ़ विधानसभा क्षेत्र से सटे बैरसिया विधानसभा क्षेत्र के गांव सूरजपुर में भी साध्वी प्रज्ञा के पक्ष में एकतरफा वोट पड़े हैं। यहां दिग्विजय को 207 तो साध्वी को 427 वोट मिले है। यही नहीं, पिछले दो महीने से भोपाल की दिग्विजय सिंह जिस कॉलोनी आम्रपाली में रह रहे है, वहां भी वे नहीं जीत पाए। उन्हें 144 वोट मिले हैं, जबकि प्रज्ञा को यहां से 323 वोट मिले हैं। दूसरी तरफ रिवेरा जहां साध्वी प्रज्ञा ठाकुर रह रही है। वहां प्रज्ञा को 58 वोट मिले हैं जबकि दिग्विजय को महज 21 वोट।
व्यापारियों के वोट भी भाजपा के पक्ष में
नोटबंदी और जीएसटी से हुई तमाम दिक्कतों के बावजूद पुराने शहर के व्यापारियों के वोट भाजपा के पक्ष में गए हैं। इसकी एक वजह भोपाल में हिंदुत्व का मुद्दा हावी होना भी है। नूर महल, सिंधी मार्केट, लखेरापुरा, छोला में दिग्विजय को 90 वोट भी नहीं मिल पाए।
इब्राहिमगंज में दिग्विजय को 588 और साध्वी को सिर्फ 3 वोट
इब्राहिमगंज, कांग्रेस नगर में साध्वी को सिर्फ 3-3 वोट मिले हैं। इब्राहिमगंज में दिग्विजय को 588 और साध्वी को 3 मिले। वहीं कांग्रेस नगर में कांग्रेस को 418 और साध्वी को तीन वोट ही मिल सके।
दक्षिण पश्चिमः चार ईमली के अफसरों ने भी साध्वी पर जताया भरोसा
इधर, दक्षिण पश्चिम क्षेत्र में 256, 257 और 258 मतदान केंद्र चार ईमली जैसे पॉश क्षेत्र का है। यहां प्रदेश के आईएएस और आईपीएस अफसर रहते हैं। खास बात यह है कि इन अफसरों ने इस बार जमकर वोटिंग की। यहां से भी साध्वी प्रज्ञा के पक्ष में एकतरफा वोटिंग हुई है। चार ईमली के बूथ 256 में दिग्विजय को 86 तो साध्वी को 271, बूथ क्रमांक 257 में दिग्विजय को 64 तो साध्वी को 177 और बूथ क्रमांक 258 में कांग्रेस को 141 तो भाजपा को 412 वोट मिले हैं।
मतदान क्रमांक–क्षेत्र का नाम–कांग्रेस-भाजपा
281– आम्रपाली(दिग्विजय की कॉलोनी)–144– 323
232–रिवेरा टाउन(साध्वी की कॉलोनी)–21–58
256–चार ईमली–86–271
257– चार ईमली–64– 177
258–चार ईमली–141–412
265–पंचशील–82–235
नरेलाः वार्ड नंबर 33 में 14 हजार में से 11 हजार से ज्यादा वोट साध्वी को
वार्ड नंबर 33 में सबसे ज्यादा वोटों से साध्वी को विजय मिली। इस वार्ड में 21366 मतदाता है इसमें से 14041 ने वोट किया। इसमें से भाजपा को 11136 तो कांगे्रस को महज 2517 वोट ही मिले है।
गोविंदपुराः दिग्विजय सिंह को मिले 62 वोट
नीली ड्रेस पहने पूरे देश में रातों-रात फेमस हुई पीठासीन के मतदान केंद्र क्रमांक 100 में दिग्विजय सिंह को महज 62 वोट ही मिले। जबकि साध्वी को 253 वोट इस बूथ पर मिले है।
हुजूरः किसी भी बूथ पर नहीं मिली दिग्विजय को फतह
हुजूर विधानसभा क्षेत्र में 366 बूथ हैं। हैरत की बात यह है कि हुजूर विधानसभा क्षेत्र के किसी भी बूथ में कांग्रेस को भाजपा से ज्यादा वोट नहीं मिले।
राम मंदिर के लिए कांग्रेस की जमीन देने की घोषणा की, लेकिन सिर्फ 38 वोट मिले
दिग्विजय सिंह ने गुरु बख्श की तलैया स्थित राम मंदिर के विस्तार के लिए घोषणा की थी कि कांग्रेस अपनी जमीन राम मंदिर के लिए देना चाहती है। इस घोषणा का भी दिग्विजय को फायदा नहीं मिला। यहां कुल 560 वोटों में से सिर्फ 38 वोट दिग्विजय को मिले, वहीं साध्वी प्रज्ञा के खाते में 513 वोट गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *