सिंधिया संघम शरणम् गच्छामि : भोपाल में 5 करीबी नेताओं के साथ संघ के दफ्तर पहुंचे ज्योतिरादित्य

भोपाल. उपचुनाव के नतीजे आने के बाद पहली बार भोपाल आए ज्योतिरादित्य सिंधिया एक बार फिर संघ कार्यालय समिधा पहुंचे. सिंधिया करीब दोपहर 3:30 बजे भोपाल एयरपोर्ट पर उतरे. वहां समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया. एयरपोर्ट से वो सीधे संघ कार्यालय समिधा पहुंचे जहां  करीब घंटे भर तक रुके. खास बात यह थी कि इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ उनके करीबी पांच नेता जिनमें 3 मौजूदा मंत्री और 2 पूर्व मंत्री शामिल हैं थे.

सिंधिया के साथ जो नेता संघ कार्यालय समिधा गए उनमें मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर, ओ पी एस भदौरिया, महेंद्र सिंह सिसोदिया शामिल हैं. इसके साथ ही पूर्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत और तुलसी सिलावट भी समिधा में उनके साथ मौजूद रहे. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ज्योतिरादित्य सिंधिया ने संघ कार्यालय में क्षेत्र प्रचारक दीपक बिसपुते से चर्चा की. हालांकि वहां से निकलने के बाद सिंधिया ने इतना ही कहा कि वह सामान्य मुलाकात के लिए संघ कार्यालय आए थे. लेकिन इस मुलाकात के कई मायने निकाले जा रहे हैं.

मुलाकात के क्या मायने ?
ज्योतिरादित्य सिंधिया के संघ कार्यालय जाने के पीछे कई मायने निकाले जा रहे हैं.  उप चुनाव से ठीक पहले इस्तीफा देने वाले तुलसी सिलावट और गोविंद राजपूत का शपथ ग्रहण चुनाव जीतने के बाद भी नहीं हुआ है. सिंधिया के जो तीन मंत्री चुनाव हार गए उनके भी निगम मंडलों में एडजस्टमेंट को लेकर अटकलें चल रही हैं. ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि सिंधिया बीजेपी के साथ साथ संघ के स्तर पर भी अपने चहेतों को एडजस्ट कराने के लिए जोर लगा रहे हैं.

सीएम के साथ बैठक टली
ज्योतिरादित्य सिंधिया की भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ भी बैठक होनी थी. लेकिन एक दिन पहले ही चौहान के ससुर का निधन होने की वजह से वह गोंदिया चले गए. लिहाजा सिंधिया की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात नहीं हो सकी. सिंधिया पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती से मुलाकात करने के लिए उनके घर पहुंचे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *