महिलाएं कराएंगी मतगणना हरदा जिले की , प्रदेश में पहला ऐसा मौका !

हरदा। नारी शक्ति को सम्मान देते हुए हरदा की 84 महिलाएं लोकतंत्र के पर्व की काउंटिंग स्वयं करेगी अक्सर मानां जाता रहा है कि चुनाव प्रक्रिया बेहद संवदेनशील होती है मगर हरदा की नारी शक्ति पर जिला प्रशासन के बिरला प्रयोग से प्रदेश में हरदा पहले ऐसा जिला बना जहा ये प्रयोग हो रहा है . देश में महिलाओं के अधिकार और हर क्षेत्र में उनके प्रतिनिधित्व के आधार पर नारी शक्ति को आक्सफोर्ड शब्दकोश में शामिल करने का फैसला पिछ्ले दिनों लिया गया है।ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी ने ‘नारी शक्ति’ को अपना हिंदी वर्ड ऑफ द इयर बनाया है। हर साल ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी साल का एक सर्वोच्च हिंदी शब्द चुनती है।इस बार जगह मिली है नारी शक्ति को।हर साल उसी शब्द को जगह मिलती है जो पूरे साल हिंदुस्तान पर छाया रहा, जिसपर बहुत चर्चा हुई। कलेक्टर एस विश्वनाथन कहते हैं कि हमने शासकीय सेवा में कार्यरत नारियों की शक्ति को पहचानने में कोई चूक नहीं की । कुछ ऐसा ही इस बार भी हुआ है।इस लोकसभा निर्वाचन में बने साठ ऑल वीमेन मैनेज्ड पोलिंग स्टेशन में मतदान कराने की सभी जवाबदेही महिला शासकीय सेवकों ने बखूबी निभाई। इनके हौसलों को देख यह तय किया गया है कि आगामी 23 मई को होने वाली मतगणना का कार्य महिला शासकीय सेवक करेगीं। इसी सिलसिले में आज स्थानीय पॉलीटेक्नीक कॉलेज में मतगणना दलों का प्रशिक्षण आयोजित किया गया। कलेक्टर श्री विश्वनाथन महिला मतगणना दल का और अधिक हौसला बढाने पहुंचे। मतगणना प्रक्रिया संबंधी प्रश्न पूछे,समाधान कारक उत्तर पाकर संतोष व्यक्त किया। निर्देश दिए कि मतगणना का व्यवहारिक प्रशिक्षण भी दिया जाए। सीईओ लोकेश कुमार जांगिड़,एडीएम प्रियंका गोयल,एआरओ द्वय एचएस चौधरी और जेपी सैयाम भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *