विरोध पर बोले गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, कांग्रेस और जमीयत उलेमा का एजेंडा है एक

भोपाल। एमपी में शिवराज सरकार लव जिहाद को रोकने के लिए कानून ला रही है। अगामी विधानसभा सत्र के दौरान सदन में सरकार मध्यप्रदेश धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020 पेश करेगी। धर्मांतरण मामले में दोषी पाए जाने वाले लोगों को 5 साल तक की सजा होगी। साथ ही इसमें मदद करने वाले लोगों को भी सजा होगी। एमपी सरकार के इस बिल का विरोध शुरू हो गया है। जमीयत उलेमा समेत कांग्रेस के कुछ नेताओं ने भी इस विधेयक का विरोध किया है। कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि लव तो ऊपर वाले की देन है, ऐसे में बीजेपी को एतराज किस बात पर है। कांग्रेस नेताओं के आरोप पर मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बातचीत की है। साथ ही उन्होंने तमाम आरोप पर बेबाकी से जवाब दिया है।

सवाल : मध्यप्रदेश में सरकार में लव जिहाद के खिलाफ कानून ला रही है।
नरोत्तम मिश्रा : लव जिहाद तो मीडिया की भाषा है। हम मध्यप्रदेश धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020 को लेकर आ रहे हैं।

सवाल : कांग्रेस इस बिल का विरोध कर रही है।
नरोत्तम मिश्रा : इंशाल्लाह, इंशाल्लाह पर राहुल गांधी दौड़ कर पहुंच जाते हैं। तुम कितने अफजल मारोगे, हर घर से अफजल पैदा होगा। इस पर भी राहुल गांधी दौड़ कर पहुंच जाते हैं। कश्मीर में गुपकार बनता है, तो उसके साथ मिल कर चुनाव लड़ते हैं। देश को तोड़ने वाले और पाकिस्तान का जो लोग एजेंडा चलाते हैं, उसके साथ कांग्रेस जरूर रहती है। अगर हम इस तरह का कोई बिल लाते हैं, कांग्रेस साथ नहीं देती है। दिवाली इतना बड़ा त्यौहार है, कहीं राहुल गांधी को दीप जलाते हुए देखा है। कांग्रेस के लोग कहीं गोवर्धन पूजा करते हुए भी नजर नहीं आ रहे हैं।

सवाल : कमलनाथ के बर्थडे पर कांग्रेस हनुमान चालीसा का पाठ करवा रही है।
नरोत्तम मिश्रा : ये कांग्रेस का पॉलिटिक्ल पाखंड है। कमलनाथ खुद तो कहीं गोधन की पूजा करते नहीं दिखे हैं। कमलनाथ केक काटते हुए सिर्फ दिख जाएंगे।

सवाल : कांग्रेस नेता शशि थरूर कह रहे हैं कि एक नफरत के खिलाफ भी बिल लेकर आना चाहिए।
नरोत्तम मिश्रा : कौन सी नफरत और किसका नफरत, वो जो जनता ने कांग्रेस से की है। अभी उपचुनाव में जनता ने कांग्रेस से जो की है, उस नफरत के खिलाफ कह रहे हैं क्या। कांग्रेस का हाल इसीलिए ऐसा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *