मंगल की उल्‍टी चाल, अगले 66 दिन किस राशि का कैसा हाल

नवग्रहों के सेनापति मंगल 10 सितंबर से अपनी ही राशि मेष में वक्री यानी उलटी चाल से चलने जा रहे हैं। इस राशि में मंगल 4 अक्टूबर तक वक्री चाल से चलेंगे और मीन राशि में पहुंचकर 13 नवंबर तक उलट चाल ही चलते रहेंगे। इस दौरान पहले चरण में 4 अक्टूबर तक मंगल का यह संचार किन-किन राशियों के लिए उलझन और परेशानियों वाला रहेगा और किनके लिए शुभ परिस्थितियों का निर्माण करेगा, आइए देखें मंगल का दंगल कैसा रहेगा आपके लिए।
किस्मत से रोटी नहीं, रोटी से चमकाएं किस्मत, आजमाकर आप भी देख लीजिए
मेष
मेष आपके राशि स्‍वामी हैं और आपकी ही राशि में वक्री होने जा रहे हैं। यानी अपनी टेढ़ी चाल से वह आपके लग्‍न भाव यानी पहले घर से होकर गुजरेंगे। इस दौरान आपको आत्‍मविश्‍वास में कमी आ सकती है और आपकी ऊर्जा भी प्रभावित हो सकती है। आपके ऊपर काम का बोझ बढ़ जाएगा और आप इस दौरान थकान का भी अनुभव करेंगे। कुछ विवाद भी इस दौर में आपको घेर सकते हैं।
वृष
आपकी राशि के 12वें भाव में मंगल अपनी टेढ़ी चाल से गोचर करेंगे। इस स्‍थान को व्‍यय के भाव के रूप में देखा जाता है। इस वजह से आपके खर्च में बेतहाशा वृद्धि हो सकती है। बेहतर होगा कि अगर आप कुछ निवेश करने के बारे में सोच रहे हैं तो इस वक्‍त आपको शांत हो जाना चाहिए। इसके साथ ही साझेदारी के कार्यों से परहेज करना चाहिए। आपको स्‍वास्‍थ्‍य के मामले में भी थोड़ा सा सावधान रहने की जरूरत है।
मिथुन
आपकी राशि के 11वें भाव में मंगल अपनी तिरछी चाल से कदम रखने जा रहे हैं। यह भाव आपके कर्म का भाव कहलाता है। इस गोचर से आपको कई फायदे होने वाले हैं। कार्यक्षेत्र में आपके प्रयासों को सफलता मिलेगी। आपके आस-पास का वातावरण भी खुशहाल होगा। आप किसी प्रिय के साथ रोमांस का अनुभव कर सकते हैं और आपका रिश्‍ता और मजबूत होगा।
कर्क
मेष राशि में वक्री होते वक्‍त मंगल आपकी राशि के 10वें भाव से होकर गुजरेंगे। यह भाव आपके पितरों का भाव कहलाता है। इसके प्रभाव से आप इस दौरान कुछ अच्‍छी व्‍यापारिक डील कर सकते हैं। पिछले निवेशों से भी आपको लाभ मिलेगा। आपका स्‍वास्‍थ्‍य भी इस वक्‍त उत्‍तम रहेगा और घर परिवार में प्रसन्‍नता बनी रहेगी। सुबह उठकर ना करें ऐसे काम, दिन भर रहेंगे परेशान
सिंह
मेष में वक्री चाल चलते हुए मंगल इस वक्‍त आपकी राशि के 9वें भाव से गुजरेंगे। इसके प्रभाव से आपकी प्रगति कुछ धीमी हो सकती है और आपको लाभ भी होता रहेगा। मगर आपको इस वक्‍त परिवर्तन या फिर स्‍थान परिवर्तन का भी सामना करना पड़ सकता है। विदेश में अवसर तलाश रहे लोगों को इस वक्‍त लाभ हो सकता है। छात्रों को सफलता मिलने की संभावना है।
कन्‍या
मेष में वक्री चाल चलते हुए मंगल आपकी राशि के 8वें भाव से गुजरेंगे। यह भाव आपके वित्‍तीय मसलों को दर्शाता है। इस वक्‍त आपको कोई भी अहम फैसला लेने से बचना चाहिए। विरासत से जुड़े मामले या फिर जमीन जायदाद के मामलों में विवाद हो सकता है। इस वक्‍त में आपको चोट और दुर्घटना से भी सावधान रहने की जरूरत है।
तुला
मंगल इस गोचर में आपकी राशि के 7वें भाव से होकर गुजरेंगे। यह भाव आपके वैवाहिक जीवन को दर्शाता है। इस गोचर के प्रभाव से आपको इस वक्‍त घर के मामलों में शांति और धैर्य का परिचय देते हुए काम करना चाहिए। इस दौरान आपकी प्रगति भी कुछ धीमी पड़ सकती है और चिंता बढ़ सकती है।
वृश्चिक
अपनी ही राशि में टेढ़ी चाल से चल रहे मंगल गोचर के वक्‍त आपकी राशि के छठें भाव से होकर गुजर रहे हैं। आप अपने आराम की चीजों में वृद्धि होगी। विलासिता की चीजों की खरीद करेंगे। दैनिक व्‍यायाम और योग पर आपको इस वक्‍त ध्‍यान देने की जरूरत है। आपका स्‍वास्‍थ्‍य बेहतर रहेगा।
धनु
मंगल टेढ़ी चाल से आपकी राशि के पंचम भाव में गोचर कर रहे हैं। इसके प्रभाव से आपको नौकरी और व्‍यापार के मामले में कुछ समस्‍या का सामना करना पड़ सकता है। आपके सीनियर से इस वक्‍त आपकी बहस हो सकती है और आपको उनकी कोई बात भी बुरी लग सकती है। नया बिजनस करने से बचने की जरूरत है। पारिवारिक मामलों में धैर्य से काम लेने की जरूरत है।
मकर
उग्र ग्रह माने जाने वाले मंगल अपने शत्रु शनि की राशि मकर के चौथे भाव में गोचर कर रहे हैं। इसके प्रभाव से काम कार्यक्षेत्र में काफी व्‍यस्‍त रहेंगे और आपको नई जिम्‍मेदारियां भी इस वक्‍त मिल सकती हैं। आप किसी परियोजना को शुरू करने के बारे में विचार कर सकते हैं। आपको माता के स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर कुछ
कुंभ
तिरछी चाल से चल रहे अग्नि तत्‍व के ग्रह मंगल आपकी राशि के तीसरे भाव से होकर गुजरेंगे। इसके प्रभाव से आप कुछ अच्‍छी डील साइन कर सकते हैं। आपको पहले के निवेश इस वक्‍त लाभ देंगे और रुपये-पैसे के मामले में आपकी स्थिति मजबूत होगी। आपके आत्मविश्वास का स्तर उच्च बना रहेगा।
मीन
वक्री चाल से मंगल आपकी राशि के दूसरे भाव में गोचर करेंगे। इसके प्रभाव से आपको आने वाले दिनों में कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। आपको रुपये-पैसों से जुड़े मामलों में किसी प्रकार की हानि का सामना भी करना पड़ सकता है। वहीं घर में पत्‍नी से बात करते हुए आपको थोड़ी सी सावधानी भी रखने की जरूरत है। आपको धैर्य से काम लेना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *