असंतुष्ट बिगाड़ेंगे एमपी में बीजेपी का खेल? बीएल संतोष हुए एक्टिव, भोपाल में करेंगे बैठक

भोपाल। ज्योतिरादित्य सिंधिया के आने से बीजेपी के पुराने नेताओं में असंतोष है। खास कर उन नेताओं में ज्यादा रोष है, जो पिछले विधानसभा में चुनाव हार गए थे। उन सीटों पर उपचुनाव में सिंधिया के लोगों को ही टिकट मिलेगा। ऐसे में इन सीटों से कभी बीजेपी के उम्मीदवार रहे लोग अपने सियासी करियर को लेकर चिंतित हैं। ग्वालियर पूर्व से बीजेपी के उम्मीदवार सतीश सिकरवार ने मंगलवार को पार्टी छोड़ भी दिया है। इसके बाद बीजेपी खेमे में खलबली मच गई है।
बगावत की आहट को देखते हुए राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष एमपी में एक्टिव हो गए हैं। क्योंकि बीजेपी प्रदेश में अभी अंदरूनी कलह से जूझ रही है। संगठन महामंत्री बनने के बाद बीएल संतोष आज पहली बार भोपाल पहुंच रहे हैं। उपचुनाव की तैयारियों को लेकर वह एमपी के नेताओं के साथ मैराथन बैठक करेंगे। साथ ही रुठे लोगों को मनाने का काम भी करेंगे। चर्चा है कि इसे लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल के बाहर के सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं।
पहली बार आ रहे हैं संतोष
बीएल संतोष संघ के बैकग्राउंड से आते हैं। साथ ही वह पीएम मोदी और अमित शाह के बेहद करीबी हैं। कर्नाटक में भी उपचुनाव के दौरान उन्होंने बड़ी भूमिका निभाई थी। अब एमपी में बीजेपी को उपचुनाव में जीत दिलाने के लिए उन्होंने मोर्चा संभाल लिया है। दोपहर में बीएल संतोष भोपाल पहुंचेंगे। इस दौरान वे जिन मंत्रियों को उपचुनाव का प्रभार सौंपा है, उनके साथ और चुनाव प्रबंध और संचालन समिति के साथ संयुक्त बैठकें करेंगे।
लेंगे फीडबैक
वहीं, बीएल संतोष उपचुनाव की तैयारियों को लेकर जमीनी स्तर पर भी लोगों से फीडबैक लेंगे। इस दौरान संगठन महामंत्री असंतुष्टों और पिछले विधानसभा के हारे हुए प्रत्याशियों और उनकी मौजूदा सक्रियता के बारे में बात करेंगे। बैठक के दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और प्रदेश संगठन महा मंत्री सुहास भगत भी मौजूद रहेंगे।
ग्वालियर-चंबल में है ज्यादा असंतोष
दरअसल, एमपी 27 सीटों पर उपचुनाव है। सबसे ज्यादा असंतोष ग्वालियर-चंबल संभाग में है। बीजेपी को झटका भी उसी इलाके में लगा है। ऐसे में पार्टी को सबसे ज्यादा टेंशन उस क्षेत्र के रूठे लोगों को मनाने की है। बीजेपी के तमाम कद्दावर नेता उस क्षेत्र में कैंप कर रहे हैं। लेकिन अभी तक कोई सकारात्मक नतीजा नहीं निकला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *