चोरी की राशि में बंटवारे को लेकर हुए विवाद में की थी हत्या

  • मोहदा पुलिस ने किया नाबालिग की हत्या का खुलासा

बैतूल। मोहदा थानांतर्गत धुधरी ग्राम में 23 अगस्त की रात को नाबालिग की जलाकर हत्या करने का मोहदा पुलिस ने खुलासा कर आरोपी दिनेश पिता मुन्ना धुर्वे (22) निवासी टेरम को गिरफ्तार किया है। चोरी की राशि के बटवारे को लेकर हुए विवाद एवं मारपीट के दौरान आरोपी दिनेश धुर्वे ने अपने मित्र पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। जिससे जलने से उसकी मौत हो गई थी।
शुक्रवार शाम को पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित पत्रकार वार्ता में भैंसदेही एसडीओपी शिवचरण बोहित ने नाबालिग की हत्या का पर्दाफाश किया। पत्रकार वार्ता में फोरेंसिक विशेषज्ञ एफएसएल प्रभारी श्री बाथम सहित मोहदा थाना प्रभारी उपनिरीक्षक पुरूषोत्तम गौर भी मौजूद थे।
गुमठी में जली अवस्था में मिला था शव
मोहदा थानांतर्गत धुधरी ग्राम निवासी शोभाराम कासदे ने 24 अगस्त को सुबह थाने में सूचना दी कि उसकी दुकान में रात के समय आग लग गई थी। सुबह जब वह दुकान पहुंचा तो दुकान का ताला टूटा हुआ था एवं दुकान के अंदर एक जला हुआ शव भी पाया गया। सूचना के बाद मोहदा थाना प्रभारी उपनिरीक्षक पुरूषोत्तम गौर एवं फोरेंसिक विशेषज्ञ की बाथम ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की। पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद ने भी घटनास्थल पहुंचकर घटना का सुपरविजन किया।
मारपीट के बाद पेट्रोल डालकर लगाई थी आग
भैंसदेही एसडीओपी श्री बोहित ने बताया कि दुकान नुमा गुमठी में जला हुआ शव मिलने के बाद मोहदा पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना शुरू की गई। विवेचना के दौरान मृतक की शिनाख्त टेरम ग्राम निवासी दिलीप के रूप में हुई। मृतक के परिजनों ने पुलिस को बताया कि दिनेश अपने मित्रों दिनेश एवं पिंटू के साथ पोला मनाने 23 अगस्त को घुघरी ग्राम गया था। पुलिस ने संदेह के आधार पर दिनेश एवं पिंटू को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई।
भैंसदेही एसडीओपी के मुताबिक पूछताछ में दिनेश ने बताया कि 23 अगस्त को वह दिलीप एवं पिंटू के साथ घुघरी ग्राम में रिश्तेदार के यहां पोला मनाने गये थे। अपने गांव वापिस जाते समय मृतक दिलीप एवं आरोपी दिनेश ने चोरी करने की योजना बनाई। दोनों ने ग्राम के समीप स्थित शोभाराम कासदे की दुकान का ताला तोड़ा। जिसके बाद दिलीप दुकान के अंदर घुसा एवं कुछ देर बाद पैसे लेकर बाहर आ गया। दिनेश ने जब दिलीप से पैसे के बारे में पूछा तो दिलीप द्वारा कुछ नहीं मिलना बताकर भागने लगा। इस दौरान दोनों के बीच मारपीट हुई। मारपीट में दिलीप के बेहोश होने पर आरोपी दिनेश धुर्वे उसे घसीटकर दुकान के अंदर ले गया तथा दुकान में रखा पेट्रोल डालकर आग लगा दी तथा बाहर से शटर का ताला लगाकर भाग गया। दिलीप की हत्या का जुर्म स्वीकार करने के बाद मोहदा पुलिस ने दिनेश पिता मुन्ना धुर्वे (22) को गिरफ्तार कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *