स्वच्छता रैंकिंग में लगातार चौथी बार देश में नंबर-1 बना इंदौर, बीजेपी सांसद ने कहा- जश्न में शाम को जलाएं दीप, बजाएं शंख

इंदौर. मध्य प्रदेश के इंदौर शहर से जुड़ी एक बड़ी खबर है. स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में सबसे साफ शहरों में इंदौर को देश में पहला स्थान मिला है. लगातार चौथे साल इंदौर ने नंबर-1 रैकिंग का खिताब अपने नाम किया है. इससे पहले 2017, 18 और 19 में भी इंदौर को नंबर-1 स्वच्छ शहर का खिताब केन्द्र सरकार द्वारा मिल चुका है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के परिणामों का ऐलान गुरुवार को किया, जिसमें इंदौर शहर को देश में सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया गया है. इस रैंकिंग के बाद बधाइयों का सिलसिला शुरू हो गया है.

इंदौर के लगातार चौथी बार देश का सबसे स्वच्छ बनने पर सांसद शंकर लालवानी ने शहर की जनता को बधाई दी है. उन्होंने कहा कि इंदौर को चौथी बार सफाई के मामले में अग्रिम पंक्ति में खड़ा करने में शहर की जनता ने अपने फीडबैक से अहम भूमिका निभाई. स्वच्छ सर्वेक्षण में इंदौर के करीब 3 लाख लोगों ने सकारात्मक फीडबैक दिया है. इसी के सहारे शहर ने सफाई के खिताब में चौका लगाया. शहर में सफाई और नगर निगम की समस्याओं के निराकरण के लिए बना इंदौर-311 ऐप करीब 4 लाख लोगों ने डाउनलोड किया. इसमें से तीन लाख पांच हजार से ज्यादा लोगों ने ऐप और दूसरे माध्यमों से स्वच्छ सर्वेक्षण में फीडबैक दिया.

इंदौर में जश्न शुरू
सफाई में चौथी बार नंबर-1 बनने पर इंदौर में जश्न शुरू हो गया है. सांसद शंकर लालवानी ने लोगों से अपील की है कि वे शाम को घर-घर दीप जलाएं और शंख, थालियां बजाएं. शुक्रवार को सुबह घर-घर आने वाले सफाई कर्मियों का सम्मान करें. उन्हें माला पहनाकर आरती उतारें और मिठाई खिलाएं. बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी इंदौरवासियों को स्वच्छता में नंबर-1 बनने की बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण में लगातार चौथी बार इंदौर को भारत के सबसे स्वच्छ शहर का दर्जा प्राप्त होने पर हार्दिक बधाईयां. स्वच्छ भारत को जन आंदोलन बनाने के लिए इंदौर के नागरिकों को उनकी बेजोड़ लगन और सफल भागीदारी के लिए मेरी शुभकामनाएं.
इंदौर के सफाई में लगातार चौथी बार अव्वल इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने भी लोगों को बधाई दी. आपको बता दें कि कलेक्टर मनीष सिंह पहले इंदौर नगर निगम में कमिश्नर रह चुके हैं. बतौर निगम कमिश्नर उन्होंने शहरवासियों में सफाई की अलख जगाई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *