जम्मू-कश्मीर में फंसी थी युवती, बोली- धर्म परिवर्तन कराकर शादी की, 6 महीने बाद पीट कर घर से निकाला

ग्वालियर की एक युवती को जम्मू-कश्मीर के पुंछ के सुरनकोट के एक युवक ने पहचान छुपाकर अपने प्यार में फंसाया और धर्म परिवर्तन कराकर शादी कर ली है। उसके बाद लड़का और उसके घर के लोग वहां यातना देने लगे। परिवार के सभी सदस्य मिलकर उसकी खूब पिटाई करते थे। उसके बाद युवती ने सोशल मीडिया पर उस परिवार की क्रूरता का वीडियो वायरल किया। वीडियो सामने आने के बाद ग्वालियर पुलिस ने युवती से बात भी की है।

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद युवती 2 दिन पूर्व ग्वालियर आ गई है। युवती के घर लौटने के बाद रविवार को यह वीडियो जिला पुलिस के संज्ञान में आया। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि महिला एसआई ने युवती से बात की है, लेकिन उसने शिकायत करने से इनकार कर दिया है। ग्वालियर पुलिस अब जम्मू कश्मीर की पुलिस से संपर्क कर जानकारी हासिल कर रही है।

शरीर पर हैं चोट के कई निशान

पुंछ जिले के सुरनकोट से वायरल हुए वीडियो में युवती अपनी गर्दन पर कटे का निशान और हाथ पैरों में चोटों के निशान दिखाते हुए बता रही थी कि एमपी के ग्वालियर शहर की वह रहने वाली है। उसने वीडियो में यह भी दिखाया है कि लोगों ने धारदार हथियार से गले पर भी वॉर किया है।

जयपुर में हुई थी मुलाकात

युवती ने वीडियो में बताया है कि मैं जयपुर में इवेंट का कार्य करने के लिए गई थी। यहां उसकी मुलाकात एक युवक से हुई। इस युवक ने अपनी मूल पहचान और धर्म छुपाते हुए उसे प्यार के जाल में फंसाया। यह युवक 6 महीने पहले उसे अपने गांव ले गया।

गांव जाने पर पता चला उसका असली नाम

पीड़ित युवती ने बताया है कि गांव पहुंचने के बाद पता चला कि युवक का असली नाम शौकत अली खान, पिता का नाम मुमताज अली खान, उसकी मां का नाम जान बेगम खान है। इन लोगों ने उसका धर्म परिवर्तन कराया। शादी करने के बाद शौकत अली, पिता ,मां ,बहन और बहनोई ने उसके साथ मारपीट कर रहे हैं।

छह महीने बाद घर से निकाला

युवती का आरोप है कि ससुराल के लोगों ने उस पर जानलेवा हमला किया। उसके बाद घर से निकाल दिया। 6 महीने तक वह लगातार उन लोगों की यातना सहती रही है। वहीं, वीडियो सामने आने के बाद ग्वालियर पुलिस की एक महिला अधिकारी ने बात की है। हालांकि अभी तक युवती किसी के खिलाफ मामला दर्ज नहीं करवाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *