100 स्थानों पर लोगों को मुफ्त मिलेगा साफ और ठंडा पानी, इंदौर MP का पहला शहर

इंदौर। गर्मी में आम जनता को साफ और ठंडा पानी निशुल्क उपलब्ध कराने के लिए स्मार्ट सिटी मिशन के तहत शहर में 100 जगह वाटर डिस्पेंसर मशीन लगाने का काम शुरू हो गया है। ये मशीनें ऐसी जगह लगाई जा रही हैं जहां बड़े पैमाने पर आम जनता की आवाजाही है और पानी के लिए समुचित इंतजाम नहीं होने से लोगों को इधर-उधर भटकना पड़ता है। इनमें रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, प्रमुख सड़कें और चौराहे आदि शामिल हैं। इंदौर प्रदेश का पहला ऐसा शहर है जहां स्मार्ट सिटी मिशन के तहत वाटर डिस्पेंसर मशीन लगाई जा रही है।
इंदौर स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट लि. ने मशीनें लगाने का काम दो एजेंसियों को सौंपा है। एक एजेंसी 55 तो दूसरी 45 मशीनें इंस्टॉल कर रही है। योजना के लिए नगर निगम अधिकारी जगह चिन्हित कर एजेंसियों को बता रहे हैं और एजेंसियां वहां मशीन लगा रही हैं। एक मशीन लगाने में दो लाख रुपए से ज्यादा खर्च किए जा रहे हैं। नगर निगम के सिटी इंजीनियर महेश शर्मा ने बताया कि योजना पर दो-ढाई करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं।
निगमायुक्त आशीष सिंह के निर्देश पर यह कदम उठाया गया है। कोशिश है कि जल्द से जल्द सभी जगह मशीनें स्थापित हो जाएं। अब तक गंगवाल, नौलखा, तीन इमली और वल्लभ नगर बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन के तीन प्लेटफॉर्म सहित 20 से ज्यादा महत्वपूर्ण स्थानों पर मशीन लगाई जा चुकी है। यहां लोगों को साफ और ठंडा पानी निशुल्क उपलब्ध कराया जा रहा है। खजराना मंदिर, राजवाड़ा, कलेक्टोरेट और जिला कोर्ट समेत अन्य जगहों पर भी मशीनें लगाई जा रही हैं।
निगम अफसरों ने बताया कि वाटर डिस्पेंसर मशीन के लिए आठ बाय आठ फीट जगह उपलब्ध कराई जा रही है। मशीन लगने के तीन साल तक उसके मेंटेनेंस की जिम्मेदारी संबंधित एजेंसी की ही होगी। जिन जगहों पर पानी उपलब्ध नहीं है या पानी का अन्य कोई स्रोत नहीं है, वहां निगम अपने टैंकर के माध्यम से पानी उपलब्ध कराएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *