1 अगस्त को शुक्र राशि बदलकर मिथुन में करेगा प्रवेश, मेष और वृष राशि के लोगों के लिए रहेगा लाभदायक, कर्क राशि के लोग सतर्क रहें

  • 31 अगस्त तक शुक्र मिथुन राशि में ही रहेगा, मकर और मीन राशि के लोगों की बढ़ सकती हैं परेशानियां

नौ ग्रहों में से एक शुक्र 1 अगस्त की दोपहर वृष से मिथुन राशि में प्रवेश करेगा। ये ग्रह 31 अगस्त तक इसी राशि में रहेगा। इसके बाद कर्क राशि में चला जाएगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार शुक्र ग्रह की वजह से कुछ लोगों के लिए परेशानियां बढ़ सकती हैं। शुक्र के अशुभ असर को कम करने के लिए शिवजी की पूजा रोज करनी चाहिए।

जानिए चंद्र राशि के आधार पर सभी 12 राशियों के लिए शुक्र का कैसा असर रहने वाला है…

मेष– तीसरा शुक्र पुराने मित्रों से मुलाकात करवाएगा। पारिवारिक स्थितियों में सुधार होगा। कार्यक्षेत्र बढ़ेगा। परिस्थितियां पक्ष की रहेंगी।

वृषभ– दूसरा शुक्र लाभ देने वाला होगा। संतान से सुख प्राप्त होगा। अपने लिए समय निकाल पाएंगे। कार्यों में लाभ के साथ सम्मान भी मिलेगा।

मिथुन– प्रथम शुक्र की वजह से कार्यों के लिए अतिरिक्त प्रयास करने होंगे। निवेश से बचना होगा। हानि होने के योग बन रहे हैं।

कर्क– बारहवां शुक्र दांपत्य जीवन में वाद-विवाद करवा सकता है। प्रेम-प्रसंगों में भी निराश हो सकती है। कार्य अधिक होंगे, लेकिन उतना लाभ नहीं मिल पाएगा।

सिंह– एकादश शुक्र न्यायालयीन कार्यों में सफलता दिलाने वाला होगा। नई योजनाओं को पूर्ण करने की जवाबादारी मिलेगी।

कन्या- दशम शुक्र रुके कार्यों में गति प्रदान करेगा। निश्चित समय में कार्य करने में सक्षम होंगे। रुका पैसा मिलेगा। नौकरी में श्रेय मिलेगा।

तुला- नवम शुक्र प्रभाव में वृद्धि करेगा। अति आत्मविश्वास से बचना होगा। दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। समय पक्ष का रह सकता है।

वृश्चिक– अष्टम शुक्र की वजह से अटका धन मिल सकता है। वरिष्ठ लोगों से सहयोग मिलेगा। विषम परिस्थितियों से निपटने में सक्षम हो जाएंगे।

धनु- सप्तम शुक्र उत्साह में वृद्धि करेगा। सकारात्मक सोच प्रदान करेगा। धन लाभ के पूर्ण योग बन रहे हैं। तकनीक के क्षेत्र में कार्य करने वालों को लाभ होगा।

मकर– षष्ठम शुक्र कार्यों में वृद्धि करने वाला होगा। मेहनत अधिक और क्रेडिट कम मिलेगा। क्रोध बना रहेगा। मन शांत रखना होगा।

कुंभ– पंचम शुक्र बेहतर स्थितियां निर्मित करेगा। अनुमान से अधिक लाभ प्राप्त करेंगे और सोचे हुए सभी कार्य समय पर पूरे हो जाएंगे।

मीन– चौथा शुक्र कुछ व्यापारीक गतिविधियों को बाधित कर सकता है। दांपत्य जीवन में भी तनाव रहने की संभावना हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *