20 जुलाई से शुरू हो रहा है विधानसभा का मॉनसून सत्र, व्यवस्था पर कोरोना का दिखेगा असर

भोपाल. मध्य प्रदेश विधानसभा का मॉनसून सत्र 20 जुलाई से शुरू हो रहा है. शहर में कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस बार विधानसभा की व्यवस्था में काफी बदलाव किया गया है. विधानसभा भवन से लेकर एमएलए रेस्ट हाउस तक सेनेटाइजेशन और थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गयी है. विधानसभा की ड्यटी में लगे स्टाफ को ज़रूरी निर्देश और ट्रेनिंग दी जा रही है.
ये होगी बचाव की व्यवस्था
20 जुलाई से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र को लेकर कमिश्नर ने कोरोना से बचाव के लिए व्यापक सुरक्षा प्रबंध के निर्देश जारी किए हैं.समीक्षा बैठक में ये निर्देश दिए गए कि विधानसभा के मेन हॉल और कैंपस के सैनिटाईजेशन, मेडिकल जांच, एंट्रेंस गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग के व्यापक बंदोबस्त किए जाएं. विधानसभा के मुख्य भवन के अंदर सीपीए और बाहर के कैंपस का सेनिटाइजेशन नगर निगम करेगा. विधायक विश्राम गृह परिसरों का भी नगर निगम सैनिटाईजेशन करेगा. मुख्य भवन के अंदर प्रवेश द्वार, शौचालय, कॉरीडोर में पैडल डिस्पेंसर सैनिटाईजेशन मशीन रखी जाएगी. विधानसभा के सभी प्रवेश द्वारों पर मेडिकल टीम थर्मल थर्मामीटर और पल्स ऑक्सीमीटर से सभी लोगों की स्क्रीनिंग करेगी. मेनगेट और वीआईपी गेट सहित सभी प्रवेश द्वारों पर कोरोना से बचाव और जागरूकता संबंधी पोस्टर्स, बैनर लगाए जाएंगे. सत्र के दौरान विधानसभा भवन में सभी मॉस्क लगाए रखें ये सुनिश्चित किया जाएगा. अतिरिक्त संख्या में मॉस्क और सैनिटाइजर रखे जाएंगे ताकि ज़रूरत पड़ने पर विधानसभा सदस्यों को उपलब्ध कराया जा सके.
अधिकारी-कर्मचारियों का भी होगा टेस्ट
विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले स्वास्थ्य विभाग ड्यूटी पर नियुक्त किए अधिकारी-कर्मचारियों की स्क्रीनिंग भी करेगा. जिला-प्रशासन सत्र से पहले कंटेनमेंट एरिया की सूची विधानसभा सचिवालय को उपलब्ध कराएगा जिसे नोटिस बोर्ड पर चस्पा किया जाएगा. सत्र के दौरान कंटेनमेंट एरिया से आने वाले अधिकारी-कर्मचारी की सेवाएं नहीं ली जाएगी.
धारा 144 लागू
विधानसभा भवन के आसपास धारा-144 लागू कर दी गई है.भोपाल कलेक्टर के आदेश पर विधान सभा सत्र के कारण ये फैसला लिया गया है. सार्वजनिक जगहों पर 20 जुलाई से धरना-प्रदर्शन और अन्य गतिविधियों पर बैन रहेगा.20 जुलाई से 24 जुलाई तक विधानसभा का सत्र चलेगा,इस दौरान विभिन्न संगठनों, सार्वजनिक स्थान पर पांच से अधिक लोगों के इकट्ठा होने और राजनैतिक दलों का प्रदर्शन और जुलूस पर प्रतिबंध रहेगा.इसके अलावा लिली टॉकीज से रोशनपुरा, बाणगंगा रोड से राजभवन और जनसम्पर्क कार्यालय, पुराना पुलिस अधीक्षक कार्यालय से शब्बन चौराहा, स्लाटर हाउस रोड मैदामिल से बोर्ड ऑफिस चौराहा, झरनेश्वर मंदिर चौराहा से ठण्डी सड़क से 74 बंगले से होते हुए रोशनपुरा चौराहा क्षेत्र में 20 जुलाई से 24 जुलाई तक सुबह 6 बजे से रात 12 बजे तक आदेश लागू रहेगा.
भोपाल में तेज़ी से बढ़ रहा है संक्रमण
शहर में कोरोना संक्रमण तेज़ी से बढ़ता जा रहा है.इंफेक्शन की रफ्तार इतनी तेज़ है कि रोजाना 80 से 95 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज़ मिल रहे हैं. राजधानी का राजभवन हो या मंत्रालय कोई भी कोरोना की गिरफ्त से नहीं बचा है.कोरोना अपने पैर शासकीय बिल्डिंगस पर पहले ही पसार चुका है. एमपी में 4 विधायक कोरोना का शिकार बन चुके हैं.लेकिन ये वायरस और ना फैले इस बात का अब विशेष ध्यान रखा जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *