वाराणसी में मोदी का मेगा रोड शो, गंगा आरती में भी लिया भाग, कहा- काशी के फक्कड़पन में ये फकीर भी रम गया

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में नामांकन दाखिल करने से एक दिन पहले विशाल रोड शो और गंगा आरती कर शक्ति प्रदर्शन किया. इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा के कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे. शक्ति प्रदर्शन के लिहाज से किए गए इस आयोजन का समापन दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती के साथ हुआ, जिसमें मोदी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ हिस्सा लिया. पीएम मोदी ने बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के संस्थापक पंडित मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अपना सात किलोमीटर लंबा रोड शो शुरू किया. केसरिया रंग का कुर्ता और साफा पहने प्रधानमंत्री का काफिला जब शहर के लंका और अस्सी इलाकों से गुजरा तो लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा और उन्होंने गर्मजोशी से प्रधानमंत्री का अभिवादन किया. करीब चार घंटे तक चले इस रोड शो में मोदी हाथ हिलाकर एवं मुस्कुराते हुए लोगों का अभिवादन स्वीकार कर रहे थे. रोड शो दशाश्वमेध घाट पर खत्म हुआ, जहां मोदी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ गंगा आरती में भाग लिया.
इसके बाद पीएम मोदी ने काशी की जनता को भी संबोधित किया. उन्होंने कहा कि काशी ने मुझे सिर्फ एमपी नहीं पीएम बनने का आशीर्वाद दिया. उन्होंने कहा कि 5 वर्ष पहले जब काशी की धरती पर मैंने कदम रखा, तब मैंने कहा था कि मां गंगा ने मुझे बुलाया है. मैया ने ऐसा दुलार दिया, काशी के बहन-भाइयों ने इतना प्यार दिया कि काशी के फक्कड़पन में ये फकीर भी रम गया.
उन्होंने कहा कि मुझे एक सांसद के रूप में काशी के ज्ञान से जुड़ने और उसे आगे बढ़ाने का अवसर मिला. मैं इसके लिए बाबा विश्वनाथ और मां गंगा के प्रति पूर्ण श्रद्धाभाव से नमन करता हूं. ये मेरा सौभाग्य है कि काशी कि वेद परंपरा को ज्ञान के विश्लेषण व तार्किक अनुभवों से जुड़ सका. काशी का ये प्रसाद मुझे अपने सामाजिक और राजनीतिक जीवन को तार्किक बनाने की शक्ति देता है.
पीएम मोदी ने कहा कि सही कहूं तो 17 मई 2014 को गंगा तट पर संकल्प ले रहा था तो मन में ये सवाल जरूर था कि काशी की उम्मीद पर खरा उतर पाउंगा क्या? लेकिन आज मैं कह सकता हूं कि हम सभी के सामूहिक प्रयास और बाबा के आशीर्वाद से काशी के बदलाव को काशीवासियों समेत पूरा देश अनुभव कर रहा है. मां गंगा को निर्मल और अविरल बनाने की दिशा में हम बहुत आगे बढ़ चुके हैं. गंगाजी में मिलने वाले अनेक नालों को बंद किया जा चुका है. पानी के शुद्धिकरण के लिए आधुनिक प्लांट काम करना शुरू कर चुके हैं. बाबा विश्वनाथ की इस नगरी में यहां का हर व्यक्ति मेरे लिए बाबा का गण है, मेरे लिए पूजनीय है. आप सभी की पूजा करने का, सेवा करने का हर अवसर मेरे लिए सौभाग्य की तरह है.
बता दें कि भाजपा द्वारा यह शक्ति प्रदर्शन ऐसे दिन किया गया जब कांग्रेस ने इस बात को लेकर चल रही अटकलों पर विराम लगा दिया कि प्रियंका गांधी वाड्रा इस सीट से मोदी के सामने उतरेंगी. विपक्षी दल ने अजय राय को यहां से उतारने का फैसला किया जो पिछली बार भी इस सीट से लड़े थे और तीसरे स्थान पर रहे थे. भाजपा ने कहा है कि शुक्रवार 11 बजकर 30 मिनट पर मोदी द्वारा नामांकन पत्र दाखिल किये जाने के समय जेडीयू अध्यक्ष तथा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी मौजूद रहेंगे. शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान भी इस दौरान मौजूद रहेंगे.
प्रधानमंत्री शुक्रवार सुबह 9.30 बजे बूथ प्रमुखों और कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे और फिर 11 बजे काल भैरव को श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे. शुक्रवार को मोदी के नामांकन पत्र सौंपे जाने के अवसर पर अन्नाद्रमुक, अपना दल एवं उत्तर पूर्व लोकतांत्रिक गठबंधन के नेता भी मौजूद रहेंगे. मोदी ने 2014 लोकसभा चुनाव दो सीटों..वाराणसी और वडोदरा से लड़ा था. दोनों सीटों पर जीत दर्ज करने के बाद उन्होंने बाद में वडोदरा सीट छोड़ दी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *