श्रावण सोमवार पर महाकालेश्वर और ओंकारेश्वर में विशेष आरती

श्रावण माह के पहले दिन और श्रावण सोमवार के संयोग पर मध्य प्रदेश के शिव मंदिरों में विशेष पूजर और आरती की गई। उज्जैन के महाकालेश्वर, ओंकोरेश्वर, मंदसौर के पशुपतिनाथ और भोजपुर के शिव मंदिर में श्रावण सोमवार पर विशेष पूजा हुई। महाकालेश्वर मंदिर में भस्मारती के बाद भोलेनाथ को साफा पहनाकर श्रृंगार किया गया। कोरोना वायरस की वजह से सभी मंदिरों में भक्तों को शारीरिक दूरी का ध्यान रख दर्शन करने के व्यवस्था है। सुबह से ही मंदिरों में भगवान शंकर के दर्शन करने के लिए भक्त पहुंच रहे हैं। मध्य प्रदेश में श्रावण से जुड़ी अपडेट व अन्य खबरों के लिए पढ़ि‍ए यहां…।

श्रावण सोमवार पर आज शाम निकलेगी बाबा महाकाल की सवारी
श्रावण के पहले सोमवार पर आज शाम बाबा महाकाल की सवारी निकलेगी। शाम 4 बजे भगवान चंद्रमौलेश्वर रूप महाकालेश्वर मंदिर से नगर भ्रमण पर निकलेंगे। कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए इस बार महाकाल की सवारी में भक्त शामिल नहीं हो सकेंगे, लेकिन वे मोबाइल पर महाकाल मंदिर ऐप के माध्यम से और टीवी पर भी सवारी के दर्शन कर सकेंगे। महाकाल मंदिर से शुरू होकर सवारी बड़े गणेश मंदिर, हरसिद्धि चौराहा, झालरिया मठ के रास्ते सिद्धआश्रम के सामने से होते हुए शिप्रा के रामघाट पहुंचेगी। यहां पुजारी शिप्रा जल से भगवान का अभिषेक कर पूजा-अर्चना करेंगे।

ओंकारेश्वर व ममलेश्वर ज्योतिर्लिंग की निकलेंगी सवारियां
श्रावण सोमवार पर आज शाम भगवान ओंकारेश्वर और ममलेश्वर ज्योतिर्लिंग की सवारी निकलेंगी। इस वर्ष कोरोना संक्रमण की वजह से सवारी में श्रद्धालु शामिल नहीं हो सकेंगे। लेकिन सवारी परंपरा के अनुसार ही निकलेगी, जिसमें मंदिर के पुजारी और कर्मचारी शारीरिक दूरी का ध्यान रखते हुए शामिल होंगे। नर्मदा घाट पर आरती के बाद भगवान नौका विहार भी करेंगे।

1400 वर्ष पुराना शिवमंदिर
शहडोल के बाणगंगा तिराहे पर स्थित गणेश मंदिर में स्थित भगवान शिव का शिवलिंग की पूजा अर्चना करते हुए श्रद्धालु। यह शिवलिंग 1400 वर्ष पुराना बताया जाता है।

पांडव कालीन शिवमंदिर में पहुंचे श्रद्धालु
शहडोल पांडव कालीन विराट मंदिर में स्थित शिवलिंग की आराधना और पूजा करने के लिए श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। यहां भी कोरोना के कारण लोगों का आना जाना बहुत कम हो रहा है, लेकिन सुबह 11 बजे तक करीब 600 श्रद्धालु दर्शन करने के लिए आ चुके हैं। यहां लोग भीड़ इकट्ठा नहीं कर रहे हैं शारीरिक दूरी का पालन करते हुए दर्शन कर रहे हैं, लोगों के चेहरे पर मास्क भी दिखाई दे रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *