अब शादी के लिए नहीं लेना होगी प्रशासन से इजाज़त, मैरिज गार्डन खुले

भोपाल. भोपाल में अब शादी के लिए किसी तरह की परमिशन नहीं लेना होगी. साथ ही शहर के मैरिज गार्डन, होटल और धर्मशाला शादी के लिए खोल दिए गए हैं.लेकिन बस शर्त ये है कि शादी समारोह में 40 लोग ही शामिल हो सकेंगे और कोरोना से बचाव के लिए सरकार की गाइड लाइन का पूरी तरह पालन करना होगा. यानि सोशल डिस्टेंस और सेनेटाइज करना न भूलें. लेकिन इंटरटेनमेंट एवं थीम पार्क अभी नहीं खुलेंगे.
भोपाल के लोगों के लिए एक राहत भरी खबर है. जिन घरों में शादियां होना है उनके लिए ये खबर है कि यहां अब शादी के लिए किसी प्रकार की परमिशन नहीं लेना होगी.भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है.कोरोना संक्रमण में लॉक डाउन के कारण तीन महीने से शादी ब्याह के लिए प्रशासन से इजाज़त लेना अनिवार्य था. लेकिन अब ये बंदिश भोपाल प्रशासन ने खत्म कर दी है. लेकिन शादी में शामिल सिर्फ 40 लोग ही शामिल हो पाएंगे. उसमें भी सोशल डिस्टेंस का पालन पूरी तरह से करना होगा. शादी में शामिल होने आए नाते-रिश्तेदारों को मास्क पहनना होगा और विवाह स्थल पर सेनेटाइजर की व्यवस्था करना होगी.
मैरिज गार्डन और पार्क खुले
इसके साथ ही शहर के मैरिज गार्डन, होटल और धर्मशाला भी शादी के लिए खोल दिए गए हैं.प्रशासन के आदेश के बाद भोपाल के कई सार्वजनिक पार्क भी खोले जा रहे हैं. नगर निगम के एकांत पार्क, स्वर्ण जयंती पार्क, बोरवन पार्क, कान्हा कुंज समेत कई बड़े पार्क अब जनता के लिए खोले जा रहे हैं. लेकिन इंटरटेनमेंट और थीम पार्क अभी बंद रहेंगे.
मिठाई की दुकान, होटल को राहत
कलेक्टर के आदेश के बाद अब शहर में होटल, रेस्टोरेंट्स और मिठाई की दुकानें अब रात 9:00 बजे तक खुल सकेंगी. फैक्ट्री, इंडस्ट्री, कंस्ट्रक्शन और संबंधित परिवहन की गतिविधियां शनिवार और रविवार भी चालू रह सकेंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *