विधानसभा उपचुनाव: बीजेपी ने कैलाश विजयवर्गीय को सौंपी कमान, मिशन M-N में जुटी कांग्रेस

भोपाल. मध्य प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में मालवा निमाड़ की पांच सीटें हैं. बीजेपी को सत्ता में बने रहने के लिए हर सीट पर जीत जरूरी है. सत्ताधारी बीजेपी ने इन सीटों पर जीत तय करने की जिम्मेदारी पार्टी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को सौंप दी है. इन इलाकों में पार्टी के असंतुष्ट नेताओं को मनाने की जिम्मेदारी भी विजयवर्गीय पर होगी. कांग्रेस ने भी यहां के लिए प्लान तैयार किया है. उसकी नजर बीजेपी के असंतुष्टों पर है.
बीजेपी ने मालवा निमाड़ की हाटपिपल्या, बदनावर, आगर, सांवेर और सुवासरा विधानसभा सीटों के लिए रणनीति बनाने की जिम्मेदारी कैलाश विजयवर्गीय को सौंपी है. विजयवर्गीय स्थानीय नेताओं से बात कर अपनी रणनीति तैयार करेंगे. खबर है कि एक दिन पहले भोपाल आये कैलाश विजयवर्गीय की इस संबंध में एमपी बीजेपी के अध्यक्ष बी.डी. शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत के साथ चर्चा हुई है. तीनों ने मालवा निमाड़ की सीटों को लेकर मंथन किया.
कांग्रेस का प्लान MN
कांग्रेस के लिए यह उपचुनाव नाक की लड़ाई है. पीसीसी चीफ कमलनाथ ने बुधवार को भोपाल में इन सीटों के लिए मंथन किया. कमलनाथ ने बदनावर विधानसभा सीट को लेकर धार के कांग्रेस जिला अध्यक्ष और पार्टी नेताओं के साथ करीब तीन घंटे तक चर्चा की. इस दौरान बदनावर सीट से दावेदारी जता रहे 15 लोगों से उन्होंने वन टू वन चर्चा की. हालांकि कमलनाथ ने साफ कहा कि पार्टी में सर्वे के आधार पर ही उम्मीदवार के नाम तय होंगे.
असंतुष्टों पर है नजर
बदनावर सीट से वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव चुनाव जीत कर आए थे. राज्यवर्धन पाला बदलकर अब बीजेपी में चले गए हैं और खबर है कि वो अब बीजेपी के टिकट पर यहां से उम्मीदवार होंगे. ऐसे में धार से बीजेपी के कुछ नेताओं में असंतोष होने की खबर है. पूर्व विधायक भैरों सिंह शेखावत पार्टी से खफा बताए जा रहे हैं और इसी का फायदा कांग्रेस उठाना चाहती है. बीजेपी के असंतुष्ट को साधने और अपनी रणनीति तय करने के लिए कांग्रेस ने लंबा मंथन किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *