लॉकडाउन आगे बढ़ेगा या नहीं? आज हो सकता है फैसला

नई दिल्ली. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए इन दिनों देश भर में लॉकडाउन लागू है. लॉकडाउन के चौथे फेज की मियाद रविवार यानी 31 मई को खत्म हो रही है. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या लॉकडाउन को बढ़ाया जाएगा? या फिर इसे बढ़ाकर कुछ और छूट दी जाएगी. आज केंद्र सरकार इस मुद्दे पर अहम फैसला सुना सकती है. इसको लेकर शुक्रवार को पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के बीच एक अहम बैठक हुई थी.

मोदी-शाह की अहम बैठक

दो दिन पहले अमित शाह ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से फोन पर बात की थी. मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन को लेकर गृहमंत्री के सामने अपनी-अपनी बातें रखी. शाह ने पीएम मोदी को सीएम से बातचीत के दौरान मिले सुझावों और प्रतिक्रिया के बारे में जानकारी दी. ये पहला मौका है जब शाह ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से अलग-अलग बात की. इससे पहले लॉकडाउन का फेज खत्म होने से पहले खुद पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी मुख्यमंत्रियों की राय लेते थे.

लॉकडाउन बढ़ाने की मांग

ऐसा माना जा जा रहा है कि कई राज्यों ने लॉकडाउन को बढ़ाने की मांग की है. पिछली बार केंद्र ने राज्यों को लॉकडाउन में छूट देने को लेकर खुद फैसला करने को कहा था. इस बार भी ऐसा हो सकता है. इस बात की पूरी संभावना है कि एक जून से प्रतिबंध लगाने या छूट देने के संबंध में केंद्र की बहुत सीमित भूमिका होगी. राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश स्थानीय स्तर पर इस तरह के मुद्दों पर निर्णय लेंगे.

लिए जा सकते हैं ये फैसले

केंद्र सरकार अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के साथ-साथ मॉल और सिनेमा हॉल को बंद रखना जारी रख सकती है. इसके अलावा सार्वजनिक स्थानों पर लोगों द्वारा फेस मास्क पहनना अनिवार्य किया जा सकता है. स्कूलों को फिर से खोलने या मेट्रो ट्रेन सेवाओं को फिर से शुरू करने पर राज्यों को फैसला लेने की अनुमति दी जा सकती है.

कब-कब बढ़ा लॉकडाउन

कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को 21 दिन का लॉकडाउन लगाने की घोषणा की थी. इसे पहली बार तीन मई को और फिर इसे 17 मई को बढ़ाया गया था. चौथे चरण में लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ाया गया था.

देश में कोरोना का ताजा हाल

भारत में कोविड-19 के मामले शुक्रवार को बढ़कर 1,65,799 हो गए जिससे देश दुनिया में कोरोना वायरस से नौवां सबसे अधिक प्रभावित देश बन गया. देश में कोविड-19 से मृतक संख्या बढ़कर 4,706 हो गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *