जनरल प्रमोशन देना बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने जैसा- शिवराज

नई दिल्ली. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज दो ट्वीट कर कॉलेजों में जनरल प्रमोशन नहीं देने की बात कही है. उन्होंने लिखा, भांजे – भांजियों (विद्यार्थियों) की सबसे ज्यादा चिंता उन्हें है. वे इन बच्चों के भविष्य के साथ कोई खिलवाड़ नहीं होने देंगे. जनरल प्रमोशन देना बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने जैसा होगा इसलिए जनलर प्रमोशन नहीं दिया जाएगा. सीएम चौहान ने ट्वीट में कहा, ‘परिस्थितियां विपरीत हैं, लेकिन हमने भी चुनौती को अवसर में बदलने का निर्णय लिया है. मध्यप्रदेश के भांजे-भांजियों की सबसे ज़्यादा चिंता मुझे है! जिसने अपना जीवन ही उनके लिए समर्पित कर दिया हो, वह यह कभी नहीं चाहेगा कि उसके बच्चों के भविष्य के साथ कोई खिलवाड़ करे. सिंह ने लिखा, ‘परीक्षा की जो तारीखें तय की गई हैं, वे इसी बात को ध्यान में रखकर तय की गई हैं कि किसी भी छात्र-छात्राओं को किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े. ऐसा कोई भी कदम नहीं उठाया जाएगा, जिससे उनका भविष्य अंधकार में जाए.

जनरल प्रमोशन उचित नहीं होगा
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि विद्यार्थियों का भविष्य तभी खतरे में होगा, जब उनकी परीक्षा रद्द कर उन्हें ‘जनरल प्रमोशन’ दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं ने मेहनत और लगन से सालभर पढ़ाई की है, इसलिए उसकी परीक्षा जरूरी है. परीक्षा न लेकर जनरल प्रमोशन देना उनके बढ़ते जीवन को बर्बाद करने जैसा होगा.
बता दें कि देश में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए 25  मार्च से लॉकडाउन लगा हुआ है, जिसके चलते स्कूल और कॉलेज नहीं खुल पा रहे हैं. ऐसे में देश में स्कूलों और कॉलेजों में अभी तक परीक्षाएं भी नहीं हो पाई हैं. इसको लेकर जनरल प्रमोशन देने की बात कही जा रही थी, जिस पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर साफ कर दिया कि किसी को जनरल प्रमोशन नहीं मिलेगा. परीक्षा कराई जाएगी.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *