24 सीटों के नेताओं से चर्चा 22 पर सिंधिया समर्थक ही उम्मीदवार

  • प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत ने गुरुवार को उन 22 सीटों पर प्रत्याशियों का ऐलान तकरीबन कर दिया
  • 2018 के चुनाव में हारे हुए भाजपा के प्रत्याशियों से भी दोनों नेताओं ने बात की और कहा-विधायकी और मंत्री पद छोड़ना सहज नहीं होता

भोपाल. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत ने गुरुवार को उन 22 सीटों पर प्रत्याशियों का ऐलान तकरीबन कर दिया, जो कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे व अन्य नेताओं के कारण रिक्त हुई थी। वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान शर्मा-भगत ने इन सीटों के स्थानीय नेताओं से बात करते हुए एक-एक का नाम लिया और कहा कि उन्हें जिताना है। 2018 के चुनाव में हारे हुए भाजपा के प्रत्याशियों से भी दोनों नेताओं ने बात की और कहा-विधायकी और मंत्री पद छोड़ना सहज नहीं होता। यह बलिदान है। ये यदि भाजपा में नहीं आते तो सरकार कैसे बनती। 

कहा- व्यक्तिगत बाताें को दरकिनार कर करें काम

शर्मा और भगत ने कहा कि व्यक्तिगत बातों को दरकिनार रख मजबूती से भाजपा सरकार के चलने के लिए इनका जीतना जरूरी है। इसलिए तमाम विषयों पर बाद में बात होगी। प्रदेश आलाकमान ने एक-एक करके सभी 24 सीटों के स्थानीय नेताओं से बात की।

भाजपा नेताओं ने आपत्ति भी ली

पार्टी के कुछ नेताओं का कहना है कि यह सभी को पता था कि कांग्रेस से भाजपा में आने वाले लोग ही चुनाव लड़ेंगे, लेकिन पार्टी में एक प्रक्रिया है। प्रदेश चुनाव समिति की बैठक और वरिष्ठ नेताओं से चर्चा के बाद ही नाम जाहिर होने थे। कोरोना संकट है तो फोन पर ही बात की जा सकती थी, लेकिन एेसा नहीं हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *