मध्यप्रदेश में 17 मई के बाद कैसा होगा लॉकडाउन, क्या-क्या मिलेगी छूट?

कई सेक्टर में छूट दे सकती है मध्यप्रदेश सरकार
ग्रामीण इलाकों में लॉकडाउन के दौरान छूट की संभावना
धार्मिक गतिविधियों पर रोक जारी रखने का दिया सुझाव

भोपाल. मध्यप्रदेश में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक के बाद लॉकडाउन 4 के लिए जो सुझाव केंद्र सरकार को भेजने के लिए तय किए गए हैं उसके मुताबिक ऑड ईवन फॉर्मूले के तहत शहर के एक इलाके में एक दिन और दूसरे दिन दूसरे इलाके के बाजार खोलने और बंद करने का सुझाव है.

18 मई से देश भर में लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू हो जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि ये लॉकडाउन अलग स्वरूप का होगा और राज्य सरकारें ही ये स्वरूप तय करेंगी. ऐसे में 17 मई के बाद मध्यप्रदेश में कैसा रहेगा लॉकडाउन का स्वरूप पढ़िए इस रिपोर्ट में.

मध्यप्रदेश में के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. 13 मई तक के हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक मध्यप्रदेश में कोरोना के 4,173 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं और 232 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है. अब 18 मई से लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू होगा तो मध्यप्रदेश में इसका क्या स्वरूप रहेगा, इसे लेकर मध्यप्रदेश में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक भी हो चुकी है. बैठक में लॉकडाउन का क्या स्वरूप रहेगा इसपर चर्चा हुई है. इस बैठक में शिवराज सिंह चौहान सरकार के मंत्री, विधायक और जिला प्रशासन के अधिकारियों ने अपने अपने जिले की स्थिति की समीक्षा रिपोर्ट शासन के सामने रख दी है.

के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ‘आजतक’ से बात करते हुए बताया कि ‘मध्यप्रदेश में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक के बाद लॉकडाउन 4 के लिए जो सुझाव केंद्र सरकार को भेजने के लिए तय किए गए हैं उसके मुताबिक ऑड ईवन फॉर्मूले के तहत शहर के एक इलाके में एक दिन और दूसरे दिन दूसरे इलाके के बाजार खोलने और बंद करने का सुझाव है. अबतक ऑरेंज और ग्रीन जोन में सीमित समय के लिए गतिविधियां चालू हैं लेकिन लॉकडाउन 4 में रेड जोन को भी छूट दिए जाने का सुझाव जिला प्रशासन की तरफ से दिया गया है.

रेड जोन वाले शहर के ऐसे हिस्से जहां कोरोना के मामले अबतक सामने नहीं आए और न ही अब वहां कोरोना का खतरा है उसे खोलने का सुझाव है. रेड जोन वाले शहर के ऐसे हिस्से जहां कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं, उसे बफर जोन घोषित कर शहर के बाकी हिस्से को खोल दिया जाएं, ऐसा सुझाव दिया गया है. सुझाव में कहा गया है कि रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में सभी प्रकार की धार्मिक गतिविधियों पर रोक जारी रहे. पूरे मध्यप्रदेश में रात का कर्फ्यू अभी जारी रहे. मध्यप्रदेश के सभी ग्रामीण इलाकों में लॉकडाउन के दौरान छूट जारी रहेगी.

भीड़-भाड़ वाली जगहों मसलन मॉल, सिनेमाघर, जिम, स्विमिंग पूल, स्पा, सैलून बंद रखने का सुझाव केंद्र को भेजे जाने की बात कही गई है. मध्यप्रदेश में फिलहाल भोपाल, इंदौर और उज्जैन के अलावा जबलपुर, खरगोन, खंडवा, देवास, धार जैसे ऐसे जिले हैं जहां कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में देखना ये है कि इन जिलों में 4 को लेकर जो सुझाव केंद्र को दिए गए हैं, उनमें से कितनों पर अमल किया जाता है. ऐसी संभावना है कि लॉकडाउन के चौथे चरण में मध्यप्रदेश के लोगों को कई चीजों को लेकर बड़ी छूट मिलने जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *