पहले हो चुकी हैं ये घोषणाएं, आज 13.56 लाख करोड़ के नए एलान संभव

नई दिल्ली। सरकार ने कोरोना संकट से जुड़ी जो आर्थिक घोषणाएं की थीं और आज जिस पैकेज का एलान हो रहा है, उसे जोड़ दें तो ये कुल 20 लाख करोड़ रुपये का है। ये पैकेज भारत की जीडीपी का 10 फीसदी है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज शाम चार बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आर्थिक पैकेज की घोषणा करेंगी। प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए वो बताएंगी कि 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का इस्तेमाल किन-किन क्षेत्रों में किया जाएगा और किसे कितनी राशि मिलेगी। इससे पहले करीब 4.74 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक राहत पैकेज की घोषणा हो चुकी है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1.70 लाख रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की थी। इसके बाद भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने भी नकदी बढ़ाने के कई उपायों की घोषणा की थी। इस तरह सरकार और केंद्रीय बैंक द्वारा अब तक करीब 6.44 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा हो चुकी है। अब वित्त मंत्री द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ रुपये में से सिर्फ 13.56 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का एलान बाकी है, जो सरकार आगे कई टुकड़ों में कर सकती है।

वित्त मंत्री ने की थी 1.70 लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में लड़खड़ाती अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए बड़े एलान किए थे। उन्होंने एक लाख 70 हजार करोड़ के आर्थिक पैकेज की घोषणा की थी। इसके तहत किसानों, मनरेगा मजदूर, महिलाओं, पीएफ खाताधारकों, आदि को लाभ मिल रहा है। 

27 मार्च को RBI ने किया था एलान
इसके बाद 27 मार्च को भारतीय रिजर्व बैंक ने कई महत्वपूर्ण एलान किए। आरबीआई ने सीआरआर में कटौती के अतिरिक्त टारगेटेड लॉन्ग टर्म रेपो ऑपरेशन (TLTRO) की घोषणा की थी, जिससे सिस्टम में 3.74 लाख करोड़ रुपये की रुपये की नकदी आने की बात कही गई थी। भारतीय रिजर्व बैंक ने टीएलटीआरओ 1 के तहत एक लाख करोड़ रुपये की नकदी बैंकिंग सिस्टम में डालने का एलान किया था।

17 अप्रैल को फिर की थी अहम घोषणाएं
इसके बाद 17 अप्रैल को फिर आरबीआई ने कई एलान किए थे। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने TLTRO 2.0 के जरिए अतिरिक्त 50,000 करोड़ रुपये की राशि उपलब्ध कराने की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि यह काम किस्तों में किया जाएगा। इसके अतिरिक्त उन्होंने नाबार्ड को 25 हजार करोड़ रुपये, SIDBI को 15 हजार करोड़ रुपये और नेशनल हाउसिंग बैंक (एनएचबी) को 10 हजार करोड़ रुपये की सहायता देने की भी घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *