सबसे बड़े ग्रह की उल्टी चाल शुरू, 7 राशियों को लाभ ही लाभ

देव गुरु बृहस्पति वक्री होने जा रहे हैं. बृहस्पति ने 30 मार्च को अपनी स्वयं राशि धनु से नीच की राशि मकर में गोचर किया था. वह 14 मई को वापस वक्री होना शुरू करेंगे और 30 जून को अपनी धनु राशि में पूरी तरह से लौट आएंगे. बृहस्पति जैसे शुभ ग्रह का वक्री होना ज्योतिष शास्त्र में बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. धन के लिहाज से वक्री बृहस्पति को अच्छा माना जाता है. ज्योतिष प्रतीक भट्ट से जानते हैं कि वक्री बृहस्पति किन राशि को लाभ देंगे और किन राशि वालों को उठाना पड़ सकता है नुकसान.
मेष- बृहस्पति कर्म से आपके भाग्य स्थान में आ रहे हैं. आपकी मेहनत का फल मिलने का समय आ गया है. धन लाभ होगा और पिता से पूरा सहयोग मिलेगा. करियर में भी अच्छा होगा. पैतृक संपत्ति मिलने का भी योग है. ध्यान देने वाली बात है कि यहां भाग्य आपका साथ तभी देगा जब आपने कर्म किए हों. धार्मिक कार्यों में मन लगेगा. गुरूवार का व्रत रखने से आपको लाभ मिलेगा.
वृषभ- वक्री बृहस्पति आपके नौवें से आठवें स्थान की तरफ जाएंगे. इससे आपके भाग्य में बढ़ोतरी होगी. संपत्ति लाभ होगा और धन बढ़ेगा. आपके पिता की सेहत में सुधार आएगा. भाई-बहनों के साथ रिश्ते बेहतर होंगे. विदेश जाने की इच्छा रखने वालों को अभी और इंतजार करना पड़ सकता है. भगवान का निरादर ना करें वरना समय कष्टदायक हो सकता है. अपने मस्तक पर केसर का तिलक लगाएं, लाभ मिलेगा.
मिथुन- बृहस्पति आपके आठवें से सातवें स्थान पर आएंगे. कोर्ट-कचहरी के चक्कर में फंस सकते हैं. इस समय जितना हो सके ज्ञान अर्जित करने की कोशिश करें. योग करें और ध्यान लगाएं, इससे मन को शांति मिलेगी और आपको अच्छा लगेगा. शराब और विवाहेतर संबंधों से दूर रहें वरना आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है. आलस्य का त्याग करेंगे तभी लाभ मिलेगा. 30 जून तक आपको सावधान रहने की जरूरत है. हर बृहस्पतिवार माथे पर पीला तिलक लगाएं.
कर्क- कर्क राशि वालों को कोई अच्छी डील मिल सकती है, व्यापार बढ़ेगा. वैवाहिक जीवन मे कुछ दिक्कतें आ सकती है. पति-पत्नी के बीच मनमुटाव बढ़ेगा. जो लोग शादी के लिए बहुत दिनों से प्रयासरत थे उन्हें अच्छे रिश्ते मिलने शुरू हो जाएंगे और हो सकता है कि आपका रिश्ता तय हो जाए. जीवन में तरक्की मिलेगी और धन लाभ होगा. आर्थिक स्थिति अच्छी रहेगी. आध्यात्मिक रूझान बना कर रखें. बृहस्पतिवार के दिन पीपल के पेड़ को जल चढ़ाएं.
सबसे बड़े ग्रह की उल्टी चाल शुरू, 7 राशियों को लाभ ही लाभ6/13
सिंह- इस वक्री गोचर का असर आपके छठे भाव में है. शत्रु खत्म होंगे, बीमारियों से छुटकारा मिलेगा और जीवन में सकारात्मकता आएगी. नई नौकरी मिलने के संकेत मिल रहे हैं. धन लाभ होगा, खासतौर से पुराना दिया हुआ कर्ज वापस मिल जाएगा और अगर आपने कर्ज लिया था तो उसे आसानी से चुका सकेंगे. कुल मिलाकर धन के लिहाज से ये समय आपके लिए बहुत अच्छा है. घर में किसी की तबियत खराब हो सकती है, उस पर ध्यान रखें. धन खर्च पर ध्यान रखें. बृहस्पतिवार के दिन साधु और ब्राम्हणों को दान करें.
कन्या- कन्या राशि वालों के शिक्षा में बाधा आ सकती है. गर्भवती महिलाओं को सेहत पर ध्यान देने की जरूरत है. धन और कर्म के लिहाज से वक्री गुरू आपके लिए बहुत अच्छा समय लेकर आ रहे हैं. आर्थिक पक्ष मजबूत होगा और शेयर मार्केट से जबरदस्त लाभ होगा. पुत्र को आगे बढ़ने में सहायता मिलेगी. प्रेमी जोड़ों को भी लाभ मिलेगा लेकिन शादी की बात घर में 30 जून के बाद ही करें. एक हल्दी की गांठ गले में धारण कर लें.
सबसे बड़े ग्रह की उल्टी चाल शुरू, 7 राशियों को लाभ ही लाभ8/13
तुला- तुला राशि वालों के चौथे भाव में गोचर है जिसकी वजह से आपके शिक्षा में बाधा आ सकती है. ये लोग बहुत बुद्धिमान होते हैं लेकिन शिक्षा में इसका लाभ नहीं मिल पाता है. ये लोग जिंदगी में आगे जाते हैं और करियर में बहुत तरक्की करते हैं. यह अपनी मेहनत से घर, गाड़ी और बंगला करते हैं. इस गोचर में भी आपको इनका लाभ मिलेगा. शेयर मार्केट से लाभ होगा. निवेश से लाभ होगा. माता की सेहत पर ध्यान दें. पूजा-पाठ पर ध्यान दें. हरिवंश पुराण का पाठ करें.
सबसे बड़े ग्रह की उल्टी चाल शुरू, 7 राशियों को लाभ ही लाभ9/13
वृश्चिक- इस वक्री गोचर से वृश्चिक राशि वालों का पराक्रम बढ़ेगा लेकिन भाई-बहनों से रिश्ते खराब होंगे. यात्रा में नुकसान और पढ़ाई में बाधा आ सकती है. पिता का सेहत बेहतर होगा और उनके साथ रिश्ते बेहतर होंगे. पैतृक संपत्ति से लाभ होगा. पीले फूल वाले पौधे घर में लगाएं, निश्चित तौर पर लाभ मिलेगा.
धनु- आपके दूसरे भाव में बृहस्पति का गोचर है जो आपको बहुत धन लाभ देने वाला है. सोना-चांदी खरीदने में लाभ होगा. मधुर वाणी से लोगों का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करेंगे. आप जीवन में बहुत तरक्की करेंगे. धन में वृद्धि होगी और इसका इस्तेमाल आप अपने व्यापार में करेंगे. नौकरी बेहतर रहेगी. ज्योतिष की तरफ आपका रूझान बढ़ेगा. गाय के घी का दीपक बृहस्पतिवार के दिन जलाएं.
मकर- आपके आत्मविश्वास में वृद्धि होगी लेकिन दुविधा की स्थिति रहेगी. सेहत को लेकर परेशान रहेंगे. मानसिक तनाव भी हो सकता है. पिता के सेहत को लेकर भी चिंतित रहेंगे. पूजा-पाठ की तरफ ध्यान देने की जरूरत है. खर्चे बढ़ सकते हैं और पैसे का भी नुकसान हो सकता है. जीवनसाथी के साथ रिश्ते खराब हो सकते हैं. बृहस्पतिवार के दिन मक्के के आटा और चने की दाल का भोग लगाएं.
कुंभ- कुंभ राशि को वक्री गुरू नुकसान देकर जाएंगे. खर्चे बढेंगे और नौकरी में दिक्कत आएगी. कहीं से कोई अशुभ समाचार मिल सकता है. सेहत को लेकर भी सावधान रहने की जरूरत है. जल में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर स्नान करने से लाभ मिलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *