सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पूछा, तीन मई के बाद लॉकडाउन जारी रखें या नहीं

भोपाल। तीन मई के बाद जिलों में लॉकडाउन की क्या स्थिति रखी जाए, इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक मई तक कलेक्टरों से रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने कहा कि आपदा प्रबंधन समूह के साथ बैठक कर इस बारे में विचार करें। साथ ही यह भी तय करके बताएं कि कितनी छूट दी जानी चाहिए। साथ ही यह भी देखा जाए कि संक्रमित क्षेत्र का आकार बड़ा तो नहीं है। यदि ऐसा है तो उसे फिर से तय किया जाए। जिन क्षेत्रों में अब कोई संक्रमित मरीज नहीं है, उन्हें संक्रमण मुक्त घोषित करने को लेकर भी निर्णय लिया जाए।

यह निर्देश मुख्यमंत्री ने बुधवार को चार घंटे चली कलेक्टर और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कई जिलों में कलेक्टरों ने अच्छा काम किया है अन्य जिले भी ऐसा ही काम करें। लॉकडाउन का सख्ती से पालन करें। नर्सिंग होम एसोसिएशन और नेशनल मेडिकल एसोसिएशन ने मोबाइल पर मुफ्त उपचार की सलाह देने की सहमति दी है। इसे शुरू कराया जाए।

खरगोन पर विशेष ध्यान दें

मुख्यमंत्री ने संक्रमण की दर अधिक होने के कारण खरगोन पर विशेष ध्यान देने को कहा है। उन्होंने होम क्वारंटाइन को प्राथमिकता देने और जबलपुर-खंडवा जिलों को जांच मशीन दिलवाने को कहा। उज्जैन कलेक्टर को इलाज की बेहतर व्यवस्था करने के लिए कहा।

चार-पांच लोगों की उपस्थिति में हो सकेंगे विवाह

स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि चार-पांच व्यक्तियों की उपस्थिति में घर पर ही विवाह हो सकेंगे। कलेक्टरों को इस संबंध में मांगने पर अनुमति देने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *