सीबीएसई सिलेबस में हो सकता है संशोधन, जानें डीटेल में

लॉकडाउन की वजह से छात्रों का पढ़ाई के मामले में जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई के लिए सीबीएसई काम कर रहा है। इसके लिए सीबीएसई 9वीं से 12वीं क्लास तक के छात्रों के लिए अगले शैक्षिक सत्र के सिलेबस में संशोधन कर सकता है। फिलहाल तो बोर्ड स्थिति का आकलन कर रहा है। साथ ही इस बात का भी आकलन किया जा रहा है कि छात्रों का कितना नुकसान हुआ है। उसके बाद इस संदर्भ में कुछ फैसला लिया जाएगा।

एनसीईआरटी का ऐकडेमिक कैलेंडर
नैशनल काउंसिल फॉर एजुकेशनल रिसर्च ऐंड ट्रेनिंग (एनसीईआरटी) ने पिछले हफ्ते एक वैकल्पिक शैक्षिक कैलेंडर की घोषणा की थी। यह कैलेंडर पहली से पांचवीं क्लास तक के छात्रों के लिए थे। इन क्लासों के छात्र लॉकडाउन के दौरान घर पर रहने की स्थिति में इसी कैलेंडर के अनुसार पढ़ाई करेंगे। काउंसिल उच्च क्लासों के लिए भी इसी तरह का कैलेंडर तैयार करने की योजना बना रही है।
बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘एनसीईआरटी ने पहली से आठवीं क्लास तक के लिए संशोधित शैक्षिक कैलेंडर तैयार किया है। सीबीएसई स्थिति और छात्रों के हुए नुकसान का आकलन कर रहा है ताकि 9वीं से 12वीं क्लास तक के सिलेबस को युक्तिसंगत बनाया जा सके। इसके बारे में आने वाले समय में सूचित कर दिया जाएगा।’

लॉकडाउन की वजह से बंद हुए स्कूल
देश में कोरोनावायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पहले चरण में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन किया गया था। फिर स्थिति की समीक्षा के बाद इस लॉकडाउन को बढ़ाकर 3 मई तक कर दिया गया। लॉकडाउन की वजह से सभी स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी और शैक्षिक संस्थान बंद हैं। स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटियों में परीक्षाओं को भी फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। जेईई, नीट समेत कई प्रतियोगी परीक्षाओं को भी स्थगित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *