एक दर्जन से ज्यादा वरिष्ठ आईएएस अफसरों ने खुद को घरों में किया कैद

भोपाल। मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य संचालक विजय कुमार जे. के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि के बाद एक दर्जन से ज्यादा वरिष्ठ आईएएस अफसरों ने खुद को घरों में कैद कर लिया है। इनमें अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव और सचिव स्तर के अफसर शामिल हैं। इन अफसरों ने सुरक्षा की दृष्टि से खुद को क्वारंटाइन किया है और सरकारी काम घर से ही कर रहे हैं।

उधर इन अफसरों के क्वारंटाइन होने के बाद मैदानी जरूरतों को देखते हुए सरकार दूसरे अफसरों को जिम्मा सौंप सकती हैं। इनकी सूची भी तैयार कर ली गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना संक्रमण को लेकर लगातार समीक्षा कर रहे हैं। पिछले दिनों की गई कई समीक्षा बैठकों में स्वास्थ्य संचालक विजय कुमार जे. भी शामिल रहे हैं।

कुमार के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद इन बैठकों में उनके साथ रहने वाले अभी अफसर सेल्फ क्वारंटाइन में पहुंच गए हैं। सिर्फ मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस और वाणिज्यिक कर विभाग के अपर मुख्य सचिव आईसीपी केशरी बैठकों में शामिल होने मंत्रालय आ रहे हैं। दोनों अफसर भी ज्यादातर बैठकों में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल हो रहे हैं। कुछ जरूरी बैठकों में ही ये अफसर मुख्यमंत्री चौहान के साथ केंद्र सरकार की गाइडलाइन का पालन करते हुए बैठ रहे हैं।

ये अफसर सेल्फ क्वारंटाइन में

एसीएस मनोज श्रीवास्तव, मोहम्मद सुलेमान, अनुराग जैन, पल्लवी जैन गोविल, फैज अहमद किदवई, संजय दुबे, शिवशेखर शुक्ला, संजय शुक्ला, छवि भारद्वाज, निशांत वरवड़े, स्वाति मीणा

विकल्प के तौर पर इन्हें दिए तैयार रहने के निर्देश

राजेश राजौरा, नितेश व्यास, उमाकांत उमराव,दीपाली रस्तोगी, डीपी आहूजा, चंद्रशेखर बोरकर, मनोज गोविल, मनु श्रीवास्तव, अशोक बर्णवाल, धनराजू, एस. टी. इलैया राजा ,संदीप यादव ,विवेक पोरवाल।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *