गुरु ने बदल ली अपनी चाल, जानिए अब इन सभी राशियों पर कैसा पड़ेगा प्रभाव

गुरु मकर में प्रवेश कर चुके हैं। मकर राशि में गुरु, मंगल और शनि का यह महासंयोग चार मई तक बना रहेगा। इसके बाद फिर 30 जून को वक्री होकर दोबारा धनु राशि में प्रवेश कर जाएंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बृहस्पति ग्रह को ज्ञान, सत्कर्म और गुरु का कारक माना जाता है। ऐसे में आइए जानते हैं गुरु के इस राशि परिवर्तन का जून तक सभी राशियों पर कैसा पड़ेगा असर।

जयपुर: गुरु मकर में प्रवेश कर चुके हैं। मकर राशि में गुरु, मंगल और शनि का यह महासंयोग चार मई तक बना रहेगा। इसके बाद फिर 30 जून को वक्री होकर दोबारा धनु राशि में प्रवेश कर जाएंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बृहस्पति ग्रह को ज्ञान, सत्कर्म और गुरु का कारक माना जाता है। ऐसे में आइए जानते हैं गुरु के इस राशि परिवर्तन का जून तक सभी राशियों पर कैसा पड़ेगा असर।

मेष- इस राशि के जातक के लिए न केवल धर्म और अध्यात्म के क्षेत्र में सफलता मिलेगी, बल्कि कार्यक्षेत्र में भी तरक्की होगी।दशम कर्म भाव में यह युति मिलाजुला फल प्रदान करेगी, अघोषित कर्फ्यू के बावजूद घर बैठकर भी कुछ नया कर सकते हैं। शासन सत्ता का पूर्ण सहयोग मिलेगा माता पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना होगी इसलिए उच्च अधिकारियों से मधुर संबंध बनाए रखें।

वृष-इस राशि के जातक को सेहत से जुड़ी परेशानी भी हो सकती हैं। ससुराल पक्ष से आपको कोई कीमती तोहफा मिल सकता है।धर्म-कर्म और दान पूर्ण में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे। संतान संबंधी चिंता से मुक्ति मिलेगी एवं संतान प्राप्ति अथवा प्रादुर्भाव का भी योग बन रहा है, आकस्मिक धन प्राप्ति के योग, सामाजिक कार्यों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे

यह पढ़ें…गुरु का मकर में प्रवेश: मुश्किलों से पाना चाहते हैं छुटकारा, करें ये उपाय

मिथुन-इस राशि के जातक के लिए अत्यंत सावधानी से रहने का समय है। स्वयं पर नियंत्रण रखें और जोखिम के कार्यों से दूरी बनाएंगे तो बेहतर रहेगा। अष्टम भाव में इन ग्रहों की युति बहुत अच्छी नहीं कही जा सकती कोर्ट कचहरी के मामलों से बचें झगड़े विवाद से दूर रहें। स्वास्थ्य का ध्यान रखें, दवाओं के रिएक्शन से बचें। ऑफिस में षड्यंत्र का शिकार होने से बचें।

कर्क-इस राशि के जातक के लिए की शुरुआत में पेट से जुड़ी हुई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए अपनी सेहत का ध्यान रखना होगा। सप्तमभाव में यह ग्रह युति दांपत्य जीवन में कड़वाहट ला सकती है, शादी विवाह संबंधी वार्ता में भी कुछ विलंब हो सकता है। ससुराल पक्ष से रिश्ते बिगड़ने न दें दैनिक व्यापार में लाभ की उम्मीद बढ़ेगी। केंद्र अथवा राज्य सरकार के प्रमुख प्रतिष्ठानों में नौकरी के लिए आवेदन करना बेहतर रहेगा।

सिंह-इस राशि के जातक के लिए शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े हैं तो इसमें आपको प्रबल सफलता मिलने की संभावना है। उच्च शिक्षा के लिए विदेश भी जा सकते हैं। छठे शत्रुभाव में यह ग्रह-गोचर रोग और शत्रुओं से मुक्ति दिलाएगा, स्वास्थ्य के प्रति सजग रहें ननिहाल पक्ष से रिश्ते न बिगड़ने दें, काफी दिनों से रुका हुआ आपका कार्य बनेगा, कोर्ट कचहरी के मामले में निर्णय आपके पक्ष में आने के संकेत फिर भी जहांतक संभव हो झगड़े विवाद से बचेंक।

कन्या-इस राशि के जातक के लिए पंचम स्थान पर युति होने से नौकरी में बदलाव के साथ आर्थिक लाभ भी प्राप्त होगा। जमीन से लाभ और संतान से सुख प्राप्त होगा।परिवार में सुख-शांति का वातावरण देखने को मिलेगा।पंचमभाव में ये ग्रह गोचर विद्यार्थियों के लिए बेहतर सिद्ध होगाक। शिक्षा-प्रतियोगिता में सफलता की संभावना बढ़ेगी। कार्य-व्यापार में उन्नति से लाभ मार्ग प्रशस्त होगा, समाज में प्रतिष्ठा बढ़ेगी, संतान संबंधी चिंता दूर होगी।

तुला-इस राशि के जातक के लिए संभलकर रहने का समय है। योजनाएं बिगड़ सकती हैं। विरोधी नुकसान पहुंचाने का प्रयास करेंगे। कीमती सामान की सुरक्षा करें और वाहनादि के प्रयोग में सावधानी रखें।चतुर्थभाव में यह गोचर मिलाजुला फल देगा। पारिवारिक कलह से मानसिक अशांति बढ़ सकती है। झगड़े विवाद से बचें, माता-पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

वृश्चिक-इस राशि के जातक के लिए इस साल आपको विभिन्न स्रोतों से धन प्राप्त होगा। आपकी वाणी में मिठास आएगा। अपने गुस्से को काबू कर पाने में सफल होंगे। पराक्रम भाव में ये त्रिग्रही योग आपके साहस एवं पराक्रम की वृद्धि करेगा अपनी उर्जा शक्ति के बल पर विषम हालात को भी सामान्य कर लेंगे, किंतु परिवार में बड़े भाइयों से मतभेद ना पैदा होने दें। योजनाओं को जबतक पूर्ण कर लें उसे सार्वजनिक ना करें विदेशी व्यक्ति अथवा विदेशी कंपनी से लाभ।

यह पढ़ें…राशिफल 1अप्रैल: इन 3 राशियों को जाना होगा घर से बाहर, रहें सतर्क, जानें अपना हाल

धनु-इस राशि के जातक के लिए गुरु आपकी राशि में ही स्थित होगा। इस दौरान ज्ञान में वृद्धि होगी। आप अपने नैतिक मूल्यों को सर्वोपरि रखेंगे। आर्थिक जीवन में आपको तरक्की मिलेगी। धनभाव में बना हुआ या योग आर्थिक पक्ष मजबूत करेगा। आकस्मिक धन प्राप्ति के योग बनेंगे, किसी महंगी वस्तु का क्रय कर सकते हैं किंतु परिवार में आपसी मतभेद बढ़ेगा इसलिए अपनी जीत एवं आवेश को नियंत्रण रखते हुए हालात को बिगड़ने न दें स्वास्थ्य विशेष करके दाहिनी आंख का ध्यान रखें।

मकर-इस राशि के जातक के लिए शनि के कारण सम्मान एवं धन की प्राप्ति होगी और मंगल के कारण शत्रु परास्त करने में सफलता मिलेगी। गुरु नीच का होने के कारण कुछ दिक्कतें आ सकती हैं। स्वभाव में उग्रता आ सकती है इसलिए आवेश में आकर किया गया कार्य नुकसान दे सिद्ध हो सकता है। सरकारी सर्विस हेतु आवेदन करना सफलता दायक रहेगा, अचल संपत्ति पर बाय करेंगे कोई बड़ी सामाजिक जिम्मेवारी मिलेगी।

कुंभ-इस राशि के जातक के लिए आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। आप धन की बचत कर पाने में भी सफल होंगे। बड़े भाई-बहनों से प्रेम भाव बढ़ेगा।व्ययभाव में बना हुआ यह योग अच्छा नहीं कहा जा सकता, अत्यधिक खर्च से आर्थिक तंगी का के योग। यात्रा सावधानीपूर्वक करें दुर्घटना से बचें। जहांतक हो सके कोर्ट कचहरी के मामले भी बाहर ही सुलझा लें तो बेहतर रहेगा। गोचर अत्यधिक सावधानी बरतने की तरफ संकेत कर रहा है।

मीन-इस राशि के जातक को कार्यक्षेत्र में सफलता मिलेगी। अगर आप शिक्षा विभाग से जुड़े हैं तो यह आपके लिए सोने पर सुहागा जैसा हो सकता है। कार्य में तरक्की मिलने से आपका मन भी प्रसन्न रहेगा।यह ग्रह गोचर विषम परिस्थितियों से छुटकारा दिलाएगा। आय के साधन बढ़ेंगे किंतु परिवार के बड़े भाइयों से मतभेद हो सकता है। विद्यार्थियों के लिए शिक्षा-प्रतियोगिता में अच्छी सफलता के योग बन रहे हैं संतान संबंधी चिंता से मुक्ति मिलेगी। अच्छी संगति करें, नशाखोरी से बचें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *