मध्य प्रदेश में 5 वर्ष की सजा वाले बंदियों को मिलेगी अंतरिम बेल

भोपाल। कोरोना वायरस के बढ़ते असर को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश की जेलों में बंद बंदियों को अंतरिम बेल देने का फैसला किया है। इसके बदाय में 5 वर्ष तक की सजा वाले बंदी आएंगे। जेल में सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना वायरस फैलने से रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है। इसके पहले छत्तीसगढ़ की जेलों से भी करीब 2 हजार कैदियों को जमानत-पैरोल पर छोड़ जाने का फैसला लिया गया था। मध्य प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 32 पहुंच गई है।

मध्य प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव की संख्या शुक्रवार रात तक बढ़कर 29 हो गई है, जबकि दो मौतें हो चुकी हैं। अभी तक भोपाल में 3, ग्वालियर में 1, इंदौर में 16, जबलपुर में 8, शिवपुरी में 1, उज्जैन में 2 और खंडवा में 1 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला है। अपर संचालक (संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं) डॉ. वीणा सिन्हा ने बताया कि शुक्रवार 39 लोगों को आब्जर्वेशन में रखा है। 61 लोगों को अस्पतालों में आइसोलेशन में रखा गया है। एक हजार नए लोगों को होम क्वारेंटाइन किया है। 12 कोरोना संक्रमित लोगों के सैंपल लिए हैं, वहीं 26 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।
इधर राजधानी के चांदबड़ में शुक्रवार को तीसरा कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला है। अन्य दो पॉजिटिव मामले प्रोफेसर कॉलोनी में मिले थे। इसे देखते हुए कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने सेमरा, दुर्गानगर व चांदबड़ क्षेत्र के एक किमी एरिया को निषेध कर क्षेत्र को सील कर दिया है। वहीं इससे दो किमी की परिधि का क्षेत्र बफर जोन घोषित किया गया है। हीं क्षेत्र के सभी व्यक्ति 14 दिन तक होम कोरंटाइन रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *