MP में आदिवासियों का समग्र कल्याण राज्य सरकार की प्राथमिकता : कमलनाथ

इंदौर। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रविवार को इंदौर में क्रांतिकारी शहीद टंट्या मामा की जयंती पर बिरसा ब्रिगेड द्वारा आयोजित विशाल जनजातीय समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि आदिवासियों का समग्र कल्याण राज्य सरकार की प्राथमिकता है। प्रदेश में आदिवासियों की शिक्षा, रोजगार तथा उन्हें आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने के लिये संकल्पबद्ध होकर कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने आदिवासियों का आव्हान किया कि वे अपनी संस्कृति की रक्षा के लिये आगे आकर कार्य करें।
इस सम्मेलन में पूर्व केन्द्रीय मंत्री शरद पवार विशेष रूप से मौजूद थे। कार्यक्रम में वन मंत्री उमंग सिंघार, विधायक तथा पूर्व मंत्री कांतिलाल भूरिया, विधायक श्री संजय शुक्ला तथा विशाल पटेल, नरेन्द्र सलूजा आदि मौजूद थे।
समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने शहीद टंट्या मामा की जयंती पर शुभकामनायें दी। उन्होंने कहा कि आदिवासी मध्यप्रदेश की पहचान है। इस पहचान को हर हाल में कायम रखा जायेगा। उन्होंने कहा कि आदिवासी नवजवानों की शिक्षा, रोजगार पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। उनका भविष्य संवारा जायेगा। आज के नौजवान नई दुनिया में है, उनकी नई सोच एवं नया दृष्टिकोण है। उनके नये सपने हैं।
उन्‍होंने कहा कि युवाओं की नई सोच और नये स्वप्न को साकार किया जायेगा। उनके उत्थान के लिये काम किये जायेंगे। आदिवासियों को अपनी समस्याओं के निराकरण के लिये मुखर होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि आदिवासियों के कल्याण के क्षेत्र में प्रदेश में नया इतिहास कायम किया जायेगा। उन्होंने कहा कि नयी पीढ़ी अपनी संस्कृति को जीवित रखें।
कार्यक्रम में अतिथियों ने आदिवासियों के जीवन के बारे में प्रकाशित रिपोर्ट, टंट्या मामा के जीवन से जुड़े पोस्टर, कैलेण्डर, पत्रिका आदि का विमोचन भी किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *