CAA पर जनता का दिल जीतने के लिए बीजेपी-संघ का गढ़ बना MP

नागरिकता संशोधन कानून पर जनता का दिल जीतने के लिए भारतीय जनता पार्टी और संघ ने मध्य प्रदेश को रणनीतिक तौर पर अपना गढ़ बनाया है. इंदौर में संघ की अहम बैठक से लेकर जबलपुर में गृह मंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के दौरे तक सीएए पर अहम मंथन रहेगा. खास बात ये भी है कि मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को प्रदेश के साथ-साथ राष्ट्रीय स्तर पर बड़ी जिम्मेदारी दी गई है. यही वजह है कि वह उत्तर पूर्व के राज्यों में पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने के लिए खास तौर पर सक्रिय हैं. इसके पीछे वजह उनकी सॉफ्ट छवि को भी माना जा रहा है.

जबलपुर में अमित शाह का दौरान प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह का संसदीय क्षेत्र होने के लिहाज से अहम है. आपको बता दें कि गृह मंत्री 12 जनवरी को जबलपुर का दौरा करेंगे. हालांकि अमित शाह से पहले बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा का मध्य प्रदेश का दौरा हो चुका है और उन्‍होंने इंदौर में नागरिकता कानून पर जनसंवाद कार्यक्रम किया था. अब उसी इंदौर में संघ का मंथन हुआ है जिसमें खुद संघ प्रमुख मोहन भागवत शामिल हुए हैं. माना जा रहा है कि संघ ने सीएए पर जागरुकता को लेकर खास तौर पर इंदौर में रणनीति तैयार की है.

सीएए पर मध्य प्रदेश से शिवराज को बड़ी जिम्मेदारी दी गई है. 5 जनवरी को शिवराज सिंह चौहान ने गुवाहाटी में सीएए पर संपर्क अभियान की शुरुआत की. जबकि इससे पहले वो 6 राज्यों में सीएए पर पार्टी के बुद्धिजीवी कार्यक्रम और संवाद सभाओं में शामिल हो चुके हैं. इसके अलावा उन्‍होंने सीएए पर जयपुर, चंडीगढ़, भोपाल, तिरुपति, गोवा,गुवाहाटी में कार्यक्रम किए हैं. वहीं पंजाब के अलावा कई और प्रदेशों में भी शिवराज के दौरे हैं. शिवराज के अलावा मध्‍य प्रदेश के पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा को छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र की जिम्‍मेदारी मिली है, तो प्रदेश उपाध्यक्ष अरविंद भदौरिया को उत्तर प्रदेश और हरियाणा में सीएए पर बड़ी जिम्मेदारी दी गई है.

सीएए पर एमपी में कब कहां किसे मिली है जिम्मेदारी

  • 6 जनवरी – केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ग्वालियर नगर, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय छिंदवाडा, कृष्ण पाल भिंड, सांसद गणेश सिंह अनूपपुर, प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा सीहोर और राजस्थान के पूर्व मंत्री अरूण चतुर्वेदी नीमच में कार्यक्रमों में शामिल होंगे.7 जनवरी – राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा शिवपुरी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह एवं प्रदेश उपाध्यक्ष उषा ठाकुर धार, सांसद रामशंकर कठैरिया एवं मनोहर उंटवाल रतलाम में रहेंगे.
  • 8 जनवरी – प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह कटनी, भाजयुमो की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम महाजन देवास, विक्रम वर्मा अलीराजपुर, विनोद सोनकर अशोकनगर, पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया सतना, पूर्व मंत्री भूपेन्द्र सिंह टीकमगढ़, छग के पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल एवं पूर्व मंत्री विश्वास सारंग राजगढ़ में रहेंगे.
  • 9 जनवरी – लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन खंडवा, सांसद नंदकुमार सिंह चैहान बडवानी, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव होशंगाबाद व हरदा, पूर्व मंत्री लालसिंह आर्य आगर में रहेंगे.
  • 10 जनवरी-प्रदेश महामंत्री व सांसद अजय प्रताप सिंह सिवनी में रहेंगे.
  • 12 जनवरी – केन्द्रीय मंत्री थावरचन्द गहलोत मंदसौर एवं केन्द्रीय मंत्री फग्गनसिंह कुलस्ते डिंडोरी में रहेंगे.
  • 13 जनवरी – राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा खरगौन में प्रबुद्धजन सम्मेलन को सम्बोधित करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *