मध्य प्रदेश के लोग खरीद रहे देश में सबसे महंगा पेट्रोल

भोपाल। मध्य प्रदेश के रहवासी पिछले 4 महीने से देश में सबसे महंगा पेट्रोल और डीजल खरीद रहे हैं। यह स्थिति इसलिए बनी, क्योंकि राज्य सरकार ने जुलाई और सितंबर में वैट बढ़ाया है। लिहाजा प्रदेश में एकाएक पेट्रोल और डीजल के दाम पांच रुपए तक बढ़ गए हैं। इस वृद्घि के बाद डायनमिक प्राइजिंग के जरिए हर दिन पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ और घट रहे हैं लिहाजा लोगों को इस बात का अंदाजा भी नहीं लग पा रहा है कि वे सबसे महंगा पेट्रोल खरीद रहे हैं। देशभर के पेट्रोल और डीजल के दाम का आंकलन करने पर यह तथ्य सामने आए हैं। देश की राजधानी दिल्ली में 75 रुपए लीटर पेट्रोल है। वहीं मुंबई में 80.65 रुपए लीटर, बैंगलोर में 77.57, जयपुर में 79.19 व गोवा में 70.90 रुपए लीटर पेट्रोल बिक रहा है। वहीं भोपाल में 83.18 रुपए लीटर पेट्रोल बिक रहा है।
इसलिए बनी स्थितिः राज्य सरकार ने जुलाई में दो तो सितंबर में 2.91 रुपए बढ़ा था वैट
पेट्रोल-डीजल डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय सिंह ने बताया कि पहले राजस्थान सरकार मप्र से ज्यादा वैट वसूलती थी लिहाजा वहां सबसे महंगा पेट्रोल व डीजल था। अब मप्र में यह स्थिति बन गई है। बता दें कि जुलाई में वैट बढ़ने से दो रुपए की वृद्घि हुई थी। वहीं सितंबर में पांच फीसदी वैट बढ़ने के कारण पेट्रोल के दाम में 2.91 रुपए तो डीजल के दाम में 2.86 रुपए की वृद्घि हो गई है।
रीवा, बालाघाट व अनूपपुर में सबसे महंगा पेट्रोल
मध्यप्रदेश में भी अलग-अलग शहरों में पेट्रोल और डीजल के दाम अलग-अलग हैं। भोपाल में जहां 83.18 रुपए लीटर पेट्रोल बिक रहा है। वहीं रीवा में देश में सबसे महंगा 85.70 रुपए लीटर पेट्रोल है। इसी तरह बालाघाट में 85.47, अनूपपुर में 85.60 और छिंदवाड़ा में 85.07 रुपए लीटर पेट्रोल है। जबकि मप्र से वर्ष 2000 में अलग हुए छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 75.77 रुपए लीटर पेट्रोल है।
ऐसे समझें : एक लीटर पेट्रोल की कीमत कैसे होती है तय

  • क्रूड ऑयल की कीमत : 64.34 अमेरिकी डॉलर (4557.99 रुपए) प्रति बैरल (159 लीटर)
  • एक लीटर कच्चे तेल की कीमत : 28.66 रुपए प्रतिलीटर
  • एक लीटर पेट्रोल की रिफाइनिंग, भाड़ा, तेल कंपनियों का कमीशन, एंट्री टैक्स खर्च 2.08 रुपए
  • डीलर को एक लीटर पेट्रोल मिलता है : 30.74 रुपए प्रतिलीटर में
  • एक लीटर पेट्रोल पर केंद्र की एक्साइज ड्यूटी : 17.98 रुपए, अब एक रुपए बढ़ने पर 18.98 रुपए
  • एक लीटर पेट्रोल पर डीलर का कमीशन : 3.66 रुपए
  • यह सब मिलाकर एक लीटर पेट्रोल की कीमत : 53.38 रुपए
  • मप्र सरकार पेट्रोल पर 34 फीसदी वैट लगाती है : 18.14 रुपए वैट में चले गए। अब एक लीटर पेट्रोल 71.52 रुपए का हो गया।
    इसके अलावा मप्र सरकार पेट्रोल पर चार रुपए सेस लेती है : अब यह एक रुपए केंद्र सरकार ने और दो रुपए राज्य सरकार ने बढ़ा दिया है। इसके बढ़कर 7 रुपए हो गए हैं। लिहाजा, पेट्रोल का दाम मप्र में 78.52 रुपए प्रतिलीटर के आसपास हो जाएगा। इस पर नजदीकी रिफाइनरी के हिसाब से भाड़ा अलग से लगता है लिहाजा भोपाल में बीना रिफाइनरी से यहां तक एक लीटर पर 4.66 रुपए भाड़ा लगा। इस हिसाब से पेट्रोल के दाम 83.18 रुपए हो गए।
    वैट प्रतिशत की जगह रुपए प्रतिलीटर में लें तो मिल सकती है राहत
    मप्र सरकार देश में सबसे ज्यादा वैट ले रही है। यह वैट प्रतिशत की जगह प्रति लीटर के हिसाब से केंद्र सरकार की तर्ज पर ले तो आम जनता को काफी राहत मिल सकती है। रिफाइनरी से जितनी दूरी होती है उतना पेट्रोल पर ट्रांसपोर्ट अनाउंस बढ़ जाता है। – अजय सिंह, अध्यक्ष मप्र पेट्रोल डीजल डीलर्स एसोसिएशन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *