निर्भया केस के आरोपितों को फांसी देने के लिए जल्लाद बनने की पेशकश

ओंकारेश्वर। निर्भया कांड के आरोपितों को फांसी देने के लिए जिले के ओंकारेश्वर के सेवानिवृत फौजी प्रदीप सिंह ठाकुर ने जल्लाद के रूप में निशुल्क सेवा देने की पेशकश की है। इसके लिए उसने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गुहार लगाई है। इस काम के लिए वह सरकारी खाते में अपने पास से पांच लाख रुपए जमा भी करेगा। तीर्थनगरी ओंकारेश्वर निवासी समाजसेवी और सेवानिवृत फौजी प्रदीप सिंह ठाकुर ने बताया कि दिल्ली के निर्भया कांड के आरोपितों को जल्लाद की कमी की वजह से फांसी नहीं दिए जाने की खबर मीडिया में आने पर यह निर्णय लिया है। इसके लिए उन्होंने इंदौर के एडवोकेट से चर्चा कर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के नाम पत्र लिखा है। हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म के आरोपितों के एनकाउंटर के बाद निर्भया के आरोपितों को फांसी जरूरी है। इसका मुझे अवसर मिला तो स्वयं को धन्य समझूंगा।
इधर, हैदराबाद में वेटनरी डॉक्टर के साथ सामूहिक दुष्कर्म के चारों आरोपितों के पुलिस एनकाउंटर में मारे जाने पर समाज के सभी वर्गों ने प्रशंसा की है। शासकीय कन्या महाविद्यालय खंडवा की छात्राओं ने कहा कि आरोपितों के एनकाउंटर से दुष्कर्मियों में भय बढ़ेगा। सभी लोग हैदराबाद पुलिस द्वारा उठाए गए इस कदम की तारीफ कर रहे हैं। गौरतलब है कि शुक्रवार सुबह हैदराबाद पुलिस चारों आरोपियों को घटनास्थल पर ले गई थी ताकि वो समझ सके कि वारदात को किस तरह अंजाम दिया गया। पुलिस के अनुसार इस दौरान आरोपियों ने उन पर पत्थर बरसाना शुरू कर दिए और हमला कर भागने की कोशिश की, इसी दौरान वह मुठभेड़ में मारे गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *