मुख्यमंत्री कमल नाथ के जन्मदिन पर विवादास्पद विज्ञापन की पीसीसी कराएगी जांच

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमल नाथ के जन्मदिन पर सोमवार को पीसीसी के नाम से विवादास्पद विज्ञापन प्रकाशित होने पर कांग्रेस नेता बैकफुट पर आ गए। विज्ञापन को लेकर कांग्रेस ने स्पष्ट कर दिया है कि इसे कांग्रेस ने नहीं जारी किया है। पीसीसी के संगठन प्रभारी उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर ने कहा कि पीसीसी इसकी जांच कराएगी। मुख्यमंत्री कमल नाथ के जन्मदिन की बधाई का एक विज्ञापन मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के नाम से प्रकाशित हुआ है। इसमें मुख्यमंत्री कमलनाथ के बारे नौ खास बातें दी गई हैं, जिसके कुछ बिंदु विवादास्पद होने से सोशल मीडिया में इसकी जोरदार खिंचाई हुई। विज्ञापन में मुख्यमंत्री कमलनाथ को 1996 में मिली पराजय और 1993 में बनी सरकार में मुख्यमंत्री न बनने की वजह का जिक्र है। इन तथ्यों को जन्मदिन के बधाई विज्ञापन में दिए जाने पर प्रमुख विपक्षी दल भाजपा के नेताओं ने सोशल मीडिया पर व्यंग्य बाण चलाए।
इस विज्ञापन को लेकर पीसीसी में आयोजित एक पत्रकारवार्ता में जब मीडिया ने सवाल किए तो कांग्रेस बैकफुट पर नजर आई। पीसीसी के संगठन प्रभारी उपाध्यक्ष शेखर ने कहा कि पीसीसी की तरफ से कोई विज्ञापन जारी नहीं किया गया है। इसकी वे जांच कराएंगे। पत्रकारवार्ता में मौजूद जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि उन्हें इस विज्ञापन के बारे में कुछ नहीं पता है। उधर, इस विज्ञापन पर भाजपा चुटकी ले रही है। पूर्व मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि ये विज्ञापन किस गुट ने जारी किया है, बताओ। मिश्रा ने कहा कि जाहिर है एक गुट ने दूसरे गुट को निपटाने के लिए ऐसा विज्ञापन जारी किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *