मध्‍यप्रदेश में पांच जिलों की इंटरनेट सेवा बहाल, बरकरार रहेगी सतर्कता

भोपाल। अयोध्या फैसले के बाद कानून व्यवस्था की स्थिति पर पुलिस मुख्यालय द्वारा लगातार नजर रखी जा रही है। प्रदेश के पांच जिलों में ईद-मिलाद-उन-नबी पर बंद की गईं इंटरनेट सेवाओं को दूसरे दिन सोमवार को बहाल कर दिया गया। प्रदेश के अन्य जिलों में स्थिति पूरी तरह से सामान्य बताई जा रही है। अयोध्या मामले में शनिवार को आए फैसले के बाद प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति सामान्य बनी हुई है।
मुख्य सचिव एसआर मोहंती और डीजीपी वीके सिंह प्रदेश के मैदानी अधिकारियों से सतत संपर्क में हैं। जिलों में कानून व्यवस्था की स्थिति की रिपोर्ट की लगातार समीक्षा की जा रही है। मुख्यमंत्री कमलनाथ भी प्रदेश की स्थिति की मॉनीटरिंग कर रहे हैं।
ईद-मिलाद-उन-नबी के शांतिपूर्वक संपन्न् होने के बाद अब मंगलवार को गुरुनानक जयंती को लेकर जिलों को सतर्क रहने को कहा गया है। पुलिस मुख्यालय द्वारा सभी जिलों को गुरुनानक जयंती पर भी शनिवार और रविवार जैसे सुरक्षा इंतजाम रखे जाने के निर्देश दिए हैं। गुरुनानक जयंती जुलूस निकालने से रोकने के लिए जिला प्रशासन को सिख समाज के गणमान्य लोगों से चर्चा करने के निर्देश भी दिए हैं।
बताया जाता है कि ईद-मिलाद-उन-नबी के जुलूस निकाले जाने को लेकर प्रदेश के जिन आधा दर्जन जिलों में जिला प्रशासन ने इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया था, उनमें से टीकमगढ़, दमोह, पन्ना, छतरपुर सहित देवास जिले में दूसरे दिन दोपहर बाद इंटरनेट सेवाओं को चालू किया गया। रविवार को खंडवा में भी दिन में इंटरनेट सेवा बंद की गई थीं, लेकिन देर शाम उन्हें चालू कर दिया गया।
स्थिति सामान्य, अधिकारी आवश्यकता अनुसार निर्णय लें
अयोध्या पर आए फैसले के बाद अब प्रदेश में स्थिति पूरी तरह सामान्य है। प्रदेश में अभी भी पुलिस बल तैनात रहेगा और स्थानीय स्तर पर पुलिस अधिकारी आवश्यकता अनुसार निर्णय लेंगे। इंटरनेट सेवा स्थानीय स्तर पर बंद किए गए थे और उस पर फैसला लेने के लिए स्वतंत्र हैं।

  • वीके सिंह, पुलिस महानिदेशक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *