खट्‌टर के नाम पर मुहर, 53 साल में पहली बार गैर-कांग्रेसी 5 साल पूरे करके लगातार दूसरी बार सीएम बनेगा

पानीपत। भाजपा विधायक दल की बैठक शनिवार को चंडीगढ़ स्थित गेस्ट हाउस में हुई। केंद्रीय मंत्री और पर्यवेक्षक रविशंकर प्रसाद ने बताया कि अनिल विज और कंवर पाल सिंह ने मनोहर लाल खट्टर के नाम का प्रस्ताव किया। सभी विधायकों ने उनके नाम पर सहमति जताई। इस तरह खट्टर हरियाणा के भाजपा विधायक दल के नेता चुने गए। इसके बाद भाजपा राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेगी।
दोनों पार्टियों ने मिलकर राज्य में सरकार बनाने का फैसला किया: शाह
इससे पहले शुक्रवार रात भाजपा और जजपा की साझा प्रेसवार्ता में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बताया था कि दोनों पार्टियों ने मिलकर राज्य में सरकार बनाने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री भाजपा के होंगे जबकि उपमुख्यमंत्री जजपा के होंगे। कई निर्दलीय विधायकों ने भी समर्थन दिया है। हरियाणा की जनता ने जो जनादेश दिया है, उसकी भावनाओं को देखकर यह फैसला लिया है।
प्रदेश हित के लिए स्थाई सरकार बनाना आवश्यक: चौटाला
जजपा के दुष्यंत चौटाला ने कहा था- सरकार बनाने के लिए दोनों पार्टियों का साथ आना जरूरी था। प्रदेश के हित के लिए स्थाई सरकार बनाना आवश्यक था। चौधरी देवीलाल के समय से हम दोनों एक साथ मिलकर चले हैं। पार्टी के कई नेताओं ने इस गठबंधन पर सहमति व्यक्त की थी। प्रदेश को आगे ले जाने के लिए मिलकर साथ चलना होगा।
शाह अहमदाबाद दौरा बीच में छोड़कर दिल्ली पहुंचे
इससे पहले हरियाणा में सरकार गठन के लिए शुक्रवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह अहमदाबाद दौरा बीच में छोड़कर दिल्ली पहुंचे। शाह के दिल्ली स्थित निवास पर वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर और जननायक जनता पार्टी (जजपा) प्रमुख दुष्यंत चौटाला की बैठक हुई। इस बैठक में कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, हरियाणा भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला समेत कुछ नेता मौजूद थे।
हमने राज्य हित में चुनाव लड़ा: चौटाला
इससे पहले जजपा नेता दुष्यंत चौटाला ने कहा था- पार्टी अध्यक्ष होने के नाते मैंने यह और पार्टी पदाधिकारियों ने मिलकर यह फैसला लिया है कि हमारी कुछ मांगों को जो समर्थन देगा, हम उसके साथ मिलकर सरकार बना सकते हैं।हमने किसी के खिलाफ नहीं, बल्कि राज्य के हित में चुनाव लड़ा। हमारे नेताओं ने भाजपा और कांग्रेस के कई दिग्गजों को हराया है। हमारी पार्टी जजपा को जो 15% वोट मिले, वह जनता का आशीर्वाद है।
चौटाला ने कहा था- हमारे सहयोग से अगर भाजपा या कांग्रेस किसी की भी सरकार बनती है, तो यह राज्य के हित में ही होगा। हमने प्रदेश में जिन विषयों को लेकर चुनाव लड़ा, वही हमारे प्रमुख मुद्दे हैं। सरकार बनाने वाली पार्टी को हमारा सम्मान भी करना होगा। हमारे कई साथियों ने यह पक्ष भी रखा है कि भाजपा के साथ मिलकर मजबूत सरकार बनाई जाए। हम हरियाणा को आगे ले जाने और युवाओं को बढ़ावा देने के लिए सकारात्मक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *