कंप्यूटर बाबा और प्रशासन के दावे की खुली पोल, कांप्‍लेक्स निर्माण में अवैध रेत का उपयोग

होशंगाबाद। नदी न्यास आयोग के अध्यक्ष कंप्यूटर बाबा और होशंगाबाद जिला प्रशासन ने बुधवार को दावा किया था कि यहां रेत का अवैध कारोबार फिलहाल रुका हुआ है। उनके दावे की पोल गुरुवार को खुल गई, जब शहर के बीचोंबीच एक बड़े कांप्‍लेक्स के निर्माण में बड़ी मात्रा में अवैध रेत का उपयोग हुआ। शहर के वार्ड-6 में बन रहे कांप्‍लेक्स के लिए बड़ी मात्रा में रेत का स्टॉक रखा था। बुधवार को कंप्यूटर बाबा के दौरे के समय शिकायत पर खनिज विभाग की टीम ने मौका मुआयना कर यह रेत अवैध मानी थी, लेकिन गुरुवार सुबह से इसी रेत से कांप्‍लेक्स का लेंटर डाल दिया गया। लोगों की सूचना पर अधिकारी पहुंचे, तब काम हो चुका था।

बांद्राभान में 300 घनमीटर रेत का अवैध स्टॉक जब्त

उधर, सांगाखेड़ा की ओर जा रहे कलेक्टर शीलेंद्र सिंह ने बांद्राभान में रेत अवैध रूप से निकालते देख खनिज विभाग के अधिकारियों को बुलाया। जब अधिकारी आए, तब तक अधिकांश लोग भाग गए। मौके से सिर्फ एक ट्रैक्टर ट्राली और प्राथमिक शाला बांद्राभान के सामने से 300 घनमीटर रेत का स्टॉक जब्त किया।

जानकारी जुटाई है

एनजीटी की रोक के बावजूद शहर के बीचोंबीच ट्रैक्टर ट्रालियों से रेत आने की सूचना पर विभागीय अमले ने निरीक्षण कि या था। रेत किसने स्टॉक कराई थी, यह पता कर लिया है। उसी रेत से कांपलेक्स का लेंटर डालने की जानकारी नहीं है।

-महेंद्र पटेल, जिला खनिज अधिकारी, होशंगाबाद

किसी को अवैध कारोबार नहीं करने देंगे

रेत का अवैध करोबार किसी को नहीं करने देंगे चाहे वह कोई भी हो। नर्मदा युवा सेना व साधु संत इस काम को रोकने के लिए आगे आ रहे हैं। जिला प्रशासन के साथ मिलकर हम काम कर रहे हैं। होशंगाबाद में जो कार्रवाइयां हुई हैं, उसी तरह आगे भी जारी रहेंगी।

-कंप्यूटर बाबा, अध्यक्ष, मप्र नदी न्यास आयोग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *