मंत्रियों के नाम का इश्तेहार छपवाकर पुलिसकर्मी ऐसे कर रहा था बेरोजगारों से ठगी

भोपाल। प्रदेश सरकार के मंत्रियों के नाम पर विज्ञापन प्रकाशित करवाने वाला एक पुलिसकर्मी निकला, जो अपने साथी के साथ मिलकर बेरोजगारों को मोटी तनख्वाह की नौकरी दिलाने का झांसा देकर धोखाधड़ी कर रहा था। अशोकागार्डन पुलिस ने मंत्री के निजी सहायक की शिकायत पर इस पुलिसकर्मी को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसका साथी फरार है। उसकी लोकेशन दिल्ली में मिल रही है। आला अधिकारियों का कहना है कि उसे भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। अशोकागार्डन पुलिस के अनुसार लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसी सिलावट के निजी सहायक राकेश मिश्रा ने थाने में शिकायत की थी। इसमें बताया था कि लास्ट चांस प्रोडक्शन प्रालि. और प्रो इनोटेक हेल्थ इंडिया ने एक समाचार पत्र में 14 अक्टूबर को विज्ञापन प्रकाशित करवाया था। लास्ट चांस प्रोडक्शन प्रालि. का डायरेक्टर ललित सिंह पिता प्रेमनारायण (34) मूल निवासी 35 वार्ड नं 13, गोपाल पटेल कालोनी नसरूल्लागंज सीहोर वर्तमान में 99 रोहताश नगर खजूरी कलां में रहता है। वह पुलिस में सिपाही है। ललित सिंह का साथी गब्बर थावरे भी प्रो इनोटेक हेल्थ इंडिया का डायरेक्टर है। ये बेराजगार युवक -युवतियों को मोटी तनख्वाह वाली नौकरी दिलाने का झांसा देकर धोखाधड़ी कर रहे थे। आरोपितों ने इसके लिए अशोकागार्डन में एक आफिस बना रखा था। आरोपित अपने द्वारा दिए जा रहे विज्ञापन में स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी, स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के नाम का उपयोग कर रहे थे। धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर पुलिस ने ललित को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस में आरक्षक है आरोपित, डायल 100 में है तैनात
जांच के दौरान सामने आया है कि लास्ट चांस प्रोडक्शन प्रालि. का डायरेक्टर ललित सिंह पुलिस वायरलेस में आरक्षक के पद पर है। वह वर्तमान में डायल-100 मुख्यालय में तैनात है। आरोपित सिपाही चार सितंबर से नौकरी पर गैरहाजिर चल रहा था। वहीं फरार आरोपित गब्बर थावरे की लोकेशन दिल्ली में मिल रही है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम रवाना की जा रही है।
फरार आरोपित की तलाश जारी
मंत्री के नामों का उपयोग बेरोजगार लोगों को नौकरी देने के नाम पर धोखाधड़ी की जा रही थी। इसमें दो लोगों को आरोपित बनाया गया है। इसमें एक पुलिसकर्मी है, उसे गिरफ्तार कर लिया है। जबकि दूसरा साथी फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है।
-संजय साहू, एएसपी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *