नारायण त्रिपाठी का तीन महीने में कांग्रेस से मोहभंग, बोले- भाजपा नहीं छोड़ी

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी से मैं कभी भी अलग नहीं हुआ, विधानसभा में एक बिल को लेकर हम लोगों ने वोटिंग की थी। हमें लगा कि हम सब (भाजपा-कांग्रेस) वोटिंग में एक साथ हैं। मैं जान नहीं पाया कि भाजपा ने वोटिंग नहीं की। मैं और शरद कौल साथ ही थे पर कांग्रेस ने इस मामले में भ्रम फैलाया। मैहर को जिला बनाने से लेकर स्मार्ट सिटी सहित कई मसलों पर मैं कमलनाथ के संपर्क में था पर इसका मतलब यह नहीं कि मैं कांग्रेस में गया था। प्रलोभन तो सामान्य बात है। मेरा प्रलोभन तो मैहर का विकास है। ये बात मंगलवार को बागी विधायक नारायण त्रिपाठी ने भाजपा दफ्तर में मीडिया से कही। त्रिपाठी ने कहा कि वे भाजपा में थे और भाजपा में ही रहेंगे।
त्रिपाठी ने जुलाई में विधानसभा सत्र के दौरान एक बिल पर कांग्रेस का साथ दिया था और भाजपा से बगावत का एलान किया था पर उनका तीन महीने में ही कांग्रेस से मोहभंग हो गया। त्रिपाठी के साथ भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह, पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा, विश्वास सारंग सहित अन्य कई नेता मौजूद थे।
मैंने कहा, हम भाजपा की सरकार बना सकते हैं कांग्रेस के जिन लोगों से मुलाकात की, हमेशा मैंने एक ही बात की कि हम भाजपा की सरकार कभी भी बना सकते हैं। कांग्रेस के दस महीने के कार्यकाल के बारे में कहा कि कांग्रेस दिशाहीन पार्टी है, उसके पास न तो कोई सोच है ओर न ही नेतृत्व। जब उनसे प्रलोभन का सवाल किया तो कहा कि प्रलोभन की बात छोड़िए। मेरा तो लक्ष्य मैहर का विकास है।
राकेश सिंह बोले, त्रिपाठी को प्रलोभन देने की कोशिश की कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि क्षेत्र के विकास के लिए त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री और मंत्रियों से मुलाकात की तो इसमें गलत नहीं है। उसका फायदा उठाने की कोशिश कांग्रेस के मुख्यमंत्री, मंत्री और नेताओं ने जो की है, जो निदंनीय है। उन्होंने कई तरह के प्रलोभन देने और वादे करने की कोशिश की और कहा कि त्रिपाठी उनके साथ रहेंगे तो उनको अलग तरह से उपकृत करेंगे। पिछले दिनों कांग्रेस ने बड़े-बड़े दावे किए कि भाजपा के विधायक उनके साथ गए हैं। तब भी हमने कहा था कोई कहीं नहीं गया है। भारतीय जनता पार्टी के विधायक एकजुट है।
कोल भी हमारे साथ
भाजपा नेताओं ने कहा कि ब्यौहारी विधायक शरद कोल भी हमारे साथ हैं। वे पार्टी नेताओं के संपर्क में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *