मध्यप्रदेश के पुलिस अफसर ब्रिटेन जाकर सीखेंगे ‘स्मार्ट पुलिसिंग’

भोपाल। मध्यप्रदेश राज्य पुलिस सेवा के अफसर अब ब्रिटेन जाकर ‘स्मार्ट पुलिसिंग’ सीखेंगे। यह पहला मौका है कि जब प्रदेश के पुलिस अफसर अत्याधुनिक पुलिसिंग की बारीकियां सीखने देश के प्रतिष्ठित प्रशिक्षण संस्थानों के साथ-साथ ब्रिटेन की शेफील्ड हेलम यूनिवर्सिटी एवं अन्य पुलिस संस्थान भी जाएंगे। राज्य पुलिस सेवा के अफसरों का प्रशिक्षण प्रशासन अकादमी में शुरू हुआ। प्रशिक्षण के प्रथम चरण में 12 वर्ष का सेवाकाल पूर्ण कर चुके राज्य पुलिस सेवा के लगभग 30 पुलिस अफसर इसमें हिस्सा ले रहे हैं। इस दौरान टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंस मुंबई में 28 अक्टूबर से 2 नवंबर तक प्रशिक्षण सत्र आयोजित होगा।
ब्रिटिश पुलिस संस्थानों का भ्रमण
इस सत्र में इमोशनल इंटेलीजेंस, नेतृत्व एवं मेगा पुलिसिंग विषय व मैदानी भ्रमण के जरिए प्रशिक्षण दिया जाएगा। 4 से 9 नवंबर तक शेफील्ड हेलम यूनिवर्सिटी (यूके) में प्रशिक्षण और ब्रिटिश पुलिस संस्थानों का भ्रमण कराया जाएगा। इस दौरान सामुदायिक पुलिसिंग, मानवाधिकार, भीड़ नियंत्रण, सायबर व यातायात प्रबंधन आदि विषयों की बारीकियां सिखाईं जाएंगी। 18 नवंबर को नरोन्हा प्रशासन अकादमी में डी ब्रीफिंग के साथ प्रशिक्षण का समापन होगा। इससे मध्यप्रदेश में पुलिस सिस्टम को कई बारिकियां सीखने को मिलेंगी। इससे मध्यप्रदेश की पुलिस भी स्मार्ट तरीकों से काम कर अपराधियों को पकड़ने के साथ, केसों को जल्द सुलझाने के लिए नए तरीके अपनाएगी।
विक्टिम ऑरिएंटेड पुलिसिंग
उद्घाटन सत्र में अकादमी के महानिदेशक इकबाल सिंह बैस ने कहा कि सुनने एवं सीखने की प्रवृत्ति प्रशिक्षण के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होती है। प्रमुख सचिव गृह एसएन मिश्रा ने कहा कि इससे पुलिस बल के कौशल उन्नयन में इजाफा होगा। विशेष पुलिस महानिदेशक संजय राणा ने कहा कि सीखने की प्रवृत्ति सदैव जागृत रखें। दुनिया में अब एक्यूज ऑरिएंटेड पुलिसिंग के स्थान पर विक्टिम ऑरिएंटेड पुलिसिंग हो रही है। कार्यक्रम में पुलिस अकादमी भौंरी के निदेशक केटी वाईफे व अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक चयन भर्ती संजीव शमी भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *