भोपाल को मिली “भोज मेट्रो” की सौगात, 4 साल में होगा पहला चरण पूरा

भोपाल। प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज भोपाल में मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का भूमिपूजन किया। इस दौरान राज्य के मंत्री जयवर्धन सिंह, मंत्री पीसी शर्मा आदि नेता मौजूद रहे। गौरतलब है कि भोपाल में मेट्रो रेल वर्ष 2023 तक चलाई जाना है।
भोपाल मेट्रो रेल का नाम भोज मेट्रो होगा
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि भोपाल मेट्रो रेल का नाम भोज मेट्रो होगा। इस परियोजना के शिलान्यास अवसर पर मुझे बहुत खुशी हुई। आज मध्यप्रदेश का एक इतिहास बनने जा रहा है। युवा अवस्था में जब भोपाल आते थे तो यहां की झील को देखकर दुख होता था।
कालांतर में मैं केंद्रीय पर्यावरण मंत्री था तब इस लेक के रखरखाव के लिए रुपए आवंटित किए थे। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री रहते हुए मुझे यह अनुभव हुआ कि जब मेट्रो रेल जयपुर में, दिल्ली में चल सकती है तो फिर भोपाल में क्यों नहीं आ सकती है।
उन्होंन भोपाल के मेयर से अपील की कि आप यहां के लोगों की मदद कर, दिल्ली जाएं और केंद्र सरकार से मदद की अपील करें। उन्होंने कहा कि भोपाल का मास्टर प्लान ऐसा हो कि इसे सुरक्षित रखा जाए। इसके लिए भोपाल को फैलाने की जरूरत है। इंदौर को भी हमें फैलाना होगा। मेट्रो रेल की परियोजना में पहले चरण में 27.87 किलोममीटर का रुट तैयार किया जाएगा। जिसमें 2 किलोमीटर का कॅारिडोर निर्मित होगा। इस प्रोजेक्ट के निर्माण में करीब 7 हजार करोड़ रुपए की लागत आएगी। बताया जा रहा है कि राजधानी भोपाल की मेट्रो रेल जयपुर जैसी ही होगी। भोपाल में अभी मेट्रो रेल प्रोजेक्ट में 27.87 किलोमीटर में 2 कॉरीडोर बनेंगे, एक कॉरीडोर करोंद सर्कल से एम्स तक 14.94 किलोमीटर और दूसरा भदभदा चौराहा से रत्नागिरि चौराहा तक 12.88 किलोमीटर का होगा।
इसकी कुल लागत 6941 करोड़ 40 लाख होगी। प्रोजेक्ट में एलीवेटेड सेक्शन 26.08 किलोमीटर का होगा। इसमें कुल 28 स्टेशन बनेंगे। दूसरी ओर अंडर ग्राउण्ड सेक्शन 1.79 किलोमीटर का होगा, जिसमें 2 स्टेशन बनेंगे।
पहला भाग दिसम्बर 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य
प्रोजेक्ट में पहला काॅरिडोर करोंद से एम्स- करोंद, डीआईजी चौराहा, भोपाल टाॅकीज, नादरा बस स्टैंड, भोपाल रेलवे स्टेशन, भारत टाॅकीज, पुल बोगदा, सुभाष नगर अंडरब्रिज, डीबी माॅल, बोर्ड ऑफिस, हबीबगंज, अलकापुरी बस स्टैंड, एम्स, जबकि दूसरा काॅरिडोर- भदभदा से रत्नागिरी तिराहा – भदभदा चौराहा, डिपो चौराहा, रंगमहल चौराहा, रोशनपुरा चौराहा, पुरानी विधानसभा, लिली टाॅकीज, जिंसी, पुल बोगदा, प्रभात चौराहा, अप्सरा टाॅकीज, गोविंदपुरा, जेके रोड, रत्नागिरी तिराहा तक होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *