हनीट्रैप गैंग के दिल्ली और महाराष्ट्र की बड़ी हस्तियों से जुड़े तार

इंदौर। हनीट्रैप कांड की आरोपित आरती दयाल के गिरोह की सदस्य रूपा अहिरवार भी ब्लैकमेल करने वाले गिरोह की सूची में जुड़ गई है। पूछताछ में इस बात की पुष्टि हुई है कि वह भी बड़ी हस्तियों के अश्लील वीडियो बनाती थी। उसके तार दिल्ली और महाराष्ट्र से भी जुड़े हुए हैं। पुलिस मुख्यालय ने विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित कर दिया है। सीआईडी के महानिरीक्षक डी. श्रीनिवास वर्मा को एसआईटी प्रमुख बनाया गया है।
एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र के अनुसार रूपा अहिरवार 30 अगस्त को आरती व मोनिका के साथ रिंग रोड स्थित होटल इनफिनिटी में ठहरी थी। इसी होटल में निलंबित इंजीनियर हरभजनसिंह का अश्लील वीडियो बनाया गया था। उस वक्त रूपा रिसेप्शन पर रुक गई और गतिविधियों पर नजर रखती रही। होटल के कक्ष क्रमांक 414 की तलाशी के दौरान रूपा की जानकारी मिली तो आरती ने यह बात कबूली कि रूपा मूलत: छतरपुर की रहने वाली है और वह भी ब्लैकमेलिंग गैंग की सदस्य है। उसने भी कई लोगों को हनीट्रैप में फंसाकर लाखों रुपए वसूले हैं।
एसएसपी के मुताबिक रूपा की तलाश जारी है। जानकारी मिली है कि दिल्ली और महाराष्ट्र के कई लोगों से उसके सीधे संपर्क हैं। क्राइम ब्रांच एएसपी अमरेंद्रसिंह के अनुसार आरती ने यह भी बताया कि उसने श्वेता विजय जैन के साथ मिलकर लाइजिनिंग कंपनी खोल ली थी। वह सरकारी ठेकेदारों और नेताओं से दलाली लेकर अधिकारियों से काम करवाने लगी थी। पुलिस इनके बैंक अकाउंट और सीडीआर का विश्लेषण कर रही है।
एसएसपी पूछताछ करने पहुंची तो बिगड़ी तबीयत आरती दयाल की सोमवार को महिला थाने में उस वक्त तबीयत बिगड़ गई जब एसएसपी पूछताछ करने पहुंचीं। इसके पहले आरती सहयोगी मोनिका से बातें कर रही थी लेकिन जैसे ही टीआई अनिता देअरवाल के केबिन में बुलाया, वह बेहोश हो गई। टीआई ने पहले पानी छिड़का, फिर पानी पिलाने का प्रयास किया लेकिन कोई हलचल नहीं हुई। इस दौरान एसआई और एएसआई स्तर के अधिकारी थाने से बाहर निकल गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *