सूबे में 23 हजार किमी सड़कें बर्बाद, सुधार में खर्च होंगे 900 करोड़

भोपाल। अतिवर्षा और बाढ़ से प्रदेश में 23,704 किमी की सड़कों की स्थिति खराब हो गई है। इसमें से 1182 किमी की सड़कें पूरी तरह क्षतिग्रस्त या ध्वस्त हो चुकी हैं। भोपाल संभाग में 4959 किमी सड़कों को सुधार की आवश्यकता है। तेज बारिश के कारण 140 किमी लंबी सड़कों का नामोनिशान भी नहीं बचा है। यह खुसाला पीडब्ल्यूडी द्वारा प्रदेश में कराए गए सर्वे में हुआ है। सर्वे में सड़कों के सुधार के लिए 91,939 लाख रुपए की जरूरत भी बताई है।
अतिवर्षा का असर सिर्फ सड़कों पर ही नहीं बल्कि पुल-पुलियों पर भी पड़ा है। प्रदेश में सबसे ज्यादा भोपाल संभाग में 292 पुल-पुलियों को नुकसान पहुंचा, जबकि प्रदेश में क्षतिग्रस्त हुए पुल-पुलियों की संख्या 845 है। इनके सुधार में 5594 लाख रुपए खर्च होगा।
प्रदेश में किन संभाग में कितनी सड़कें हुई खराब
संभाग कुल सड़कें साधारण मरम्मत पैच रिपयरिंग पुल-पुलिया ध्वस्त सड़कें राशि सुधार
(किमी) (किमी) (किमी) (संख्या) (किमी) (लाख)
-ग्वालियर 5053.12 1173.04 282.29 65 126.46 7046.82
-उज्जैन 5375.58 1606.89 484.12 71 116.78 12039.30
-जबलपुर 7014.89 2429.52 497.01 72 321.70 19316.92
-इंदौर 5629.21 2334.42 568.11 67 146.04 15569.96
-रीवा 8834.51 5164.56 562.56 17 228.96 19615.54
-सागर 4160.90 1206.68 196.80 235 102.56 6820.02
-भोपाल 8231.89 3509.84 1310.41 292 139.51 8635.57
-राजमार्ग परिक्षेत्र3390.78 1002.93 194.20 18 – 1343.46
-सेतु परिक्षेत्र – – – 08 – 1551.43
तीन माह में काम करना होगा पूरा
पीडब्ल्यूडी के मुख्य अभियंता (ईएनसी) आरके मेहरा ने सभी संभागों में सड़कों व पुल-पुलिया के सुधार कार्य की डेडलाइन तय की है। जारी आदेश में बताया गया है कि आगामी 15 नवंबर तक सभी सड़कों की स्थिति दुरुस्त करनी होगी। साथ ही हर सप्ताह प्रदेश स्तरीय सड़क सुधार कार्य की समीक्षा भी की जाएगी। इसके लिए प्रतिदिन प्रोग्रेस रिपोर्ट भी अधिकारी मुख्यालय को भेंजेंगे। जिन सड़कों के हिस्से कट गए हैं, उनके एस्टीमेट रिपोर्ट आगामी 30 अक्टूबर तक मांगी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *