कमलनाथ का इस्तीफा! सिंधिया को मिल सकती है प्रदेश की कमान

भोपाल/नई दिल्ली। एमपी में प्रदेश अध्यक्ष की कमान किसे मिलेगी, इसका फैसला जल्द होने वाला है। 12 को पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली में एक अहम बैठक बुलाई है। इससे पहले सुत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि समर्थकों की लगातार बढ़ती नाराजगी और कांग्रेस में मचे घमासान को देखते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को प्रदेशाध्यक्ष बनाया जा सकता है।।हालांकि अभी तक इस बात की पुष्टि होना बाकी है। वही कांग्रेस नेताओं की तरफ से भी कोई प्रतिक्रिया सामने नही आई है।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पार्टी हाईकमान ने सिंधिया को मध्य प्रदेश कांग्रेस की जिम्मेदारी सौंपने का फैसला ले लिया है। जल्द ही उन्हें प्रदेश अध्यक्ष की कमान सौंपी जाएगी। सूत्रों ने बताया कि पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के हस्तक्षेप के बाद कांग्रेस हाईकमान ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को प्रदेश अध्यक्ष बनाने का फैसला लिया है। 10 सितंबर यानी मंगलवार को सिंधिया दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे। संभावना जताई जा रही है कि उसी दिन ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश कांग्रेस का जिम्मा सौंपा जा सकता है।वही खबर आ रही है कि सीएम कमलनाथ ने रविवार देर रात एमपी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा भी दे दिया है और पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इसे मंजूर कर लिया है।
वही सिंधिया के मना करने के बावजूद समर्थकों द्वारा ग्वालियर के बाद रविवार को सागर में सिंधिया को पीसीसी चीफ बनाने की मांग को लेकर पोस्टर लगाए गए थे।इसके पहले भी समर्थकों द्वारा प्रदर्शन, हवन-अनुष्ठान, धरना के साथ साथ कई जिलाधिकारियों द्वारा इस्तीफा भी दिए जा चुके है। हाईकमान द्वारा सख्ती और नसीहत के बावजूद समर्थकों का जूनून और जस्बा कम होने का नाम नही ले रहा है। समर्थक लगातार इस बात पर अड़ गए है कि सिंधिया को पीसीसी चीफ की कमान सौंपी जाए। फिलहाल सभी को फैसले का इंतजार है, उम्मीद की जा रही है कि प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया के बयान के अनुसार, 10 से 13 के बीच में नए प्रदेशाध्यक्ष के नाम का ऐलान कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *