दो दिन बाद प्रदेश में जोरदार बारिश के आसार

भोपाल। सूखती फसल देख पानी के लिए आसमान ताक रहे किसानों के लिए राहत भरी खबर है। गुजरात पर बने कम दबाव के क्षेत्र और मानसून ट्रफ के मप्र से गुजरने के कारण सुस्त पड़ा मानसून फिर सक्रिय हो गया है। इसके कारण दो दिन बाद पूरे प्रदेश में अच्छी बरसात की संभावना है। इसी क्रम में बुधवार से ही प्रदेश में अनेक स्थानों पर गरज-चमक के साथ रुक-रुक कर हल्की बौछारें पड़ने का सिलसिला शुरू हो गया है। मौसम विशेषज्ञपों ने गुरुवार से बरसात की गतिविधियों में और तेजी आने की बात कही है। गौरतलब है कि अपेक्षाकृत बरसात नहीं होने से सोयाबीन और धान की फसल के चौपट होने का खतरा बढ़ गया है। इससे किसान काफी चिंतित हैं।

बौछारें पड़ीं, तीन घंटे में लुढ़का 8.4 डिग्री पारा

गुजरात पर बने लो प्रेशर क्षेत्र से मानसून को ऊर्जा मिलने लगी है। इसका असर बुधवार को राजधानी में भी दिखा। सुबह से तीखी धूप के कारण तापमान तेजी से बढ़कर दोपहर तक 36.3 डिग्रीसे.तक जा पहुंचा था। लेकिन इसके बाद अचानक बादल छा गए और गरजचमक के साथ पुराने शहर में तेज बौछारें पड़ीं। इससे वातावरण में ठंडक घुल गई और शाम को तीन घंटे में तापमान 8.4 डिग्रीसे. लुढ़क गया। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक गुरुवार को भी दोपहर बाद गरज-चमक के साथ बरसात होने की संभावना है। मौसम विज्ञानी एसके डे ने बताया कि राजधानी में अभी सामान्य से करीब 10 सेमी.कम बरसात हुई है। लेकिन दो दिन बाद शहर में अच्छी बरसात के आसार बन रहे हैं। दरअसल दक्षिण गुजरात पर एक लो प्रेशर क्षेत्र बना हुआ है। इससे बड़े पैमाने पर नमी आने का सिलसिला शुरू हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *