सात सौ रुपये की नौकरी से बेशुमार दौलत के मालिक बने आनंद

नोएडा। बसपा सुप्रीमो मायावती के भाई आनंद कुमार की पत्नी विचित्र लता की एक बेनामी संपत्ति (अनुमानित कीमत 400 करोड़ रुपये) को आयकर विभाग ने गुरुवार को अटैच किया है। नोएडा के सेक्टर-94 स्थित प्लाट नंबर 2ए के इस प्लाट पर पांच सितारा होटल बनाया जाना प्रस्तावित है। यह कार्रवाई उत्तर प्रदेश में होने वाले उत्तर प्रदेश में 12 सीटों के उप चुनाव से ठीक पहले हुई है।

नोएडा में आनंद कुमार नामी-बेनामी अकूत संपत्ति के मालिक हैं। अनुमान के मुताबिक आनंद व उनकी पत्नी के नाम कुल 1350 करोड़ रुपये की चल अचल संपत्ति है। उन पर सत्ता का दुरुपयोग करने का भी आरोप है, इसकी जांच भी चल रही है। आनंद कुमार नोएडा विकास प्राधिकरण में महज दो सौ रुपये ग्रेड पे पर 1996 में जूनियर असिस्टेंट के पद पर तैनात हुए थे।

उस दौरान आनंद का मासिक वेतन महज सात सौ रुपये था, लेकिन वह सात वर्ष की छोटे समय की नौकरी में ही अचानक चर्चा में आ गए और आयकर विभाग ने आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की जांच शुरू कर दी। उस समय आनंद ने नोएडा के पॉश सेक्टर-44 में 1200 रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर से 450 वर्ग मीटर का भूखंड आवंटित कराया था।

बाद में विवाद के कारण यह भूखंड प्राधिकरण में सरेंडर करना पड़ा। 2003 में नौकरी भी छोड़नी पड़ी। हालांकि इसके बाद आनंद ने खूब संपत्ति अर्जित की। वर्तमान में आनंद और उनकी पत्नी 12 कंपनियों के मालिक हैं, जिसमें से कई कागजों पर चल रही हैं। अधिकांश संपत्ति बसपा शासन काल में आवंटित हुई हैं। बिल्डरों को पहले भू आवंटन के दौरान 30 प्रतिशत राशि जमा करनी होती थी, बसपा शासन काल में इस दर को घटाकर 10 प्रतिशत कर दिया गया। इसका फायदा आनंद ने उठाया और आयकर व अन्य जांच एजेंसियों से बचने के लिए फर्जी नामों से संपत्ति बनाई गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *