पूर्वी मध्यप्रदेश में पड़ीं राहत की बौछारें, दो दिन बाद अच्छी बारिश के आसार

भोपाल। बंगाल की खाड़ी में हलचल और राजस्थान से बंगाल की खाड़ी तक बनी द्रोणिका लाइन (ट्रफ) के प्रभाव से पूर्वी मप्र में बरसात का सिलसिला शुरू हो गया है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में शनिवार तक एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की पूरी संभावना है।

इस सिस्टम के प्रभाव से शनिवार के बाद मप्र के कई क्षेत्रों में अच्छी बारिश का सिलसिला शुरू होने के आसार हैं। गुरुवार को सुबह 8:30 से शाम 5:30 बजे तक जबलपुर में 22, मलाजखंड में 22, सीधी में 10 और नौगांव में 1 मिमी. बारिश हुई।

मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक वर्तमान में उत्तर-पश्चिम राजस्थान से दक्षिणी उत्तरप्रदेश, दक्षिणी बिहार, झारखंड, उत्तरी उड़ीसा से बंगाल की खाड़ी तक एक द्रोणिका लाइन (ट्रफ) बनी हुई है। इसके अतिरिक्त उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी से दक्षिणी उड़ीसा और आसपास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इन सिस्टम के प्रभाव से शनिवार को उड़ीसा कोस्ट पर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने के संकेत मिले हैं।

इस सिस्टम के आगे बढ़ते ही पूरे मप्र में एक बार फिर अच्छी बरसात का दौर शुरू हो जाएगा। इसके पूर्व प्रदेश के ऐसे क्षेत्र जहां तापमान सामान्य से काफी अधिक दर्ज हो रहा है, वहां गरज-चमक के साथ हल्की बौछारें पड़ने का सिलसिला भी शुरू होगा।

चार महानगरों का तापमान 

शहर अधिकतम न्यूनतम

भोपाल36.125.4

इंदौर34.023.6

जबलपुर36.926.8

ग्वालियर36.726.5

(नोट : तापमान डिग्री सेल्सियस में।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *