वैवाहिक वेबसाइट के माध्‍यम से ठगी करने वाले अंतर्राज्‍यीय गिरोह का पर्दाफाश

भोपाल । वैवाहिक वेबसाइट शादी डॉट कॉम के माध्‍यम से ठगी करने वाले अंतर्राज्‍यीय गिरोह का पर्दाफाश करने में पुलिस मुख्‍यालय की सायबर शाखा सफल हुई है। विशेष पुलिस महानिदेशक सायबर पुलिस श्री पुरूषोत्‍तम शर्मा के मार्गदर्शन में सायबर पुलिस ने यह सफलता हासिल की है।
भोपाल निवासी एक महिला नीतू(परिवर्तित नाम) ने सायबर पुलिस में रिपोर्ट लिखाई थी कि, वैवाहिक वेबसाइट शादी डॉट कॉम के जरिए शादी के लिए संपर्क कर विदेश से गिफ्ट भेजने तथा एयरपोर्ट पर गिफ्ट के क्‍लियरेन्‍स के नाम पर उससे विभिन्‍न बैंक खातों में धोखाधड़ी पूर्वक 3 लाख 65 हजार रूपए जमा कराए गए हैं। सायबर क्राइम पुलिस द्वारा धारा 420, 120 बी भादवि व 66डी आईटी एक्‍ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर बारीकी से विवेचना की गई। पुलिस अधीक्षक सायबर पुलिस श्री विकास कुमार शाहवाल के निर्देशन में गठित टीम द्वारा की गई विवेचना में यह बात सामने आई कि खाताधारक रजनी शर्मा निवासी सिंगल बस्‍ती मुरैना के खाते में राशि जमा हुई है। पुलिस ने रजनी शर्मा को गिरफ्तार कर पूछताछ की, जिससे पता चला कि उसके नाम से अवधेश पाठक निवासी ग्‍वालियर और अतुल कुशवाहा निवासी भिण्‍ड ने फर्जी दस्‍तावेजों के आधार पर खाते खुलवाए थे। इन दोनों व्‍यक्तियों द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के लोगों के भी पैसों का लालच देकर खाते खुलवाए जाते रहे हैं । खातों में रूपए आने के पश्‍चात ये दोनों एटीएम और चैक से पैसे निकालकर गायब हो जाते थे।
आरोपी अवधेश पाठक व अतुल कुशवाहा को सायबर क्राइम पुलिस ने योजना बनाकर और पैसों का झांसा देकर रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। इन दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए गठित टीम द्वारा दो अन्‍य आरोपियों गोपाल कुशवाहा निवासी ग्‍वालियर और श्‍याम सुंदर कुशवाहा निवासी भिण्‍ड को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।
आरोपियों से विभिन्‍न बैंकों से 100 चैक बुक, 100 एटीएम कार्ड, 50 बैंक पासबुक, 30 फर्जी पेन कार्ड, 20 फर्जी वोटर कार्ड, 15 फर्जी आधार कार्ड, 10 मोबाईल फोन एवं विभिन्‍न विभागों से संबंधित 20 से अधिक स्‍टाम्‍प सील पुलिस ने जप्‍त की हैं। सायबर क्राइम के इस प्रकरण में साक्ष्‍य संकलन और आरोपियों की धड़पकड़ करने में निरीक्षक चंद्रकांत पाटीदार, उपनिरीक्षक संदीप राजावत व अश्विनी चौधरी, प्रधान आरक्षक मंजीत त्रिवेदी व आरक्षक दुर्गेश ठाकुर की अहम भूमिका रही।
विशेष पुलिस महानिदेशक सायबर पुलिस श्री पुरूषोत्‍तम शर्मा ने आम जनता से अपील की है कि वैवाहिक वेबसाइट के माध्‍यम से यदि कोई धनराशि हस्‍तान्‍तरित करने की कहता है तो वास्‍तविकता का पता लगाकर ही लेन-देन करें। व्‍यक्तिगत रूप से सम्‍पर्क किए बगैर पैसा कदापि जमा न करें। उन्‍होंने बताया कि जालसाज वैवाहिक वेबसाइट पर फर्जी आकर्षक प्रोफाइल बनाकर ठगी करते हैं। जालसाज द्वारा बनावटी स्‍नेह और प्रेम दर्शाया जाता है। साथ ही लुभावने और महंगे उपहार भेजने का झांसा भी जालसाज देते हैं। संदेह होने पर तत्‍काल सायबर पुलिस को सूचना जरूर देनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *