कलेक्टर ने पेश की मिसाल, बेटी का एडमिशन सरकारी स्कूल में कराया

Sharing is caring!

तेलंगाना: ऐसे समय में जब कई माता पिता अपने बच्चे को प्राइवेट स्कूल में पढ़वाना चाहते हैं तब तेलंगाना के विकाराबाद की कलेक्टर ने मिसाल कायम करते हुये अपनी बेटी का एडमिशन एक सरकारी स्कूल में करवाया है. कलेक्टर मसर्रत खानम आएशा ने विकाराबाद के सरकारी अल्पसंख्यक आवासीय स्कूल में पांचवी कक्षा में अपनी बेटी का दाखिला करवा कर मिसाल पेश की. वह अपनी बेटी के लिए सभी सुविधाओं वाले प्राइवेट स्कूल को भी चुन सकती थीं लेकिन उन्होंने इससे परहेज करते हुये उसे सरकारी स्कूल में भेजने का कठिन रास्ता चुना.
BJP की सहयोगी पार्टी JDU ने किया ‘तीन तलाक’ बिल का विरोध, कहा- मुस्लिमों पर बिना सलाह के कोई भी विचार नहीं थोपा जाए
कलेक्टर ने अपनी बेटी का हैदराबाद से 75 किलोमीटर दूर स्थित तेलंगाना माईनोरिटी रेजीडेंशियल स्कूल में दाखिला करवाया है. आएशा ने पीटीआई-भाषा को बताया कि शिक्षा का स्तर अच्छा है और वहां बच्चे का संपूर्ण विकास हो सकता है और यहां सुविधाएं भी पर्याप्त हैं. इस स्कूल में अधिकतर गरीब लोगों के बच्चे पढ़ते हैं. तेलंगाना माईनोरिटीज रेजीडेंशियल एजुकेशनल इंस्टीटयूशन सोसाइटी के सचिव बी शफीउल्ला ने कहा कि कलेक्टर का यह प्रयास सराहनीय है.
उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा कि इससे अल्पसंख्यकों को प्रेरणा मिलेगी. इससे अल्पसंख्यकों में लड़कियों की शिक्षा को लेकर कई बदलाव आ सकते हैं. यह अच्छी खबर है.

Hits: 182

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *